सुसवाणी माता के दर पर नवरात्र महोत्सव की धूम

By: Ram Naresh Gautam

|

Published: 21 Mar 2018, 05:08 PM IST

Bengaluru, Karnataka, India

बेंगलूरु. सुसवाणी माता भक्त मंडल की ओर से नवरात्रि के प्रथम दिन अत्तिबेले रोड स्थित सुसवाणी माता मंदिर में आयोजित मातारानी के जागरण एवं चुनरी महोत्सव में बड़ी संख्या में भक्तों ने लाभ लिया।
महोत्सव में सुसवाणी माता का भव्य शृंगार कर छप्पन भोग लगाया और आरती की गई। इस अवसर पर नूतन बैगानी ने कीर्तन 'मेरा नचने का जी करदा..., तेरी गोद में मैया सुला ले... आदि भावपूर्ण भजन पेश किए। कौशल्या रामावत व पूजा रामावत ने सुसवाणी थारी चूनर प्यारी लागे, चौसठ जोगणी मेरी प्यारी है मैया, मेहंदी राचणा लागी मैया थारे नाम की, के साथ शिव आराधना, भैरव आराधना, हनुमान आराधना, खाटू श्याम आराधना आदि के भजनों से वातावरण को भक्तिमय बना दिया। भक्त पुरुष महिलाएं झूम उठे। इसके बाद चुनरी महोत्सव हुआ, जिसमें उपस्थित भक्तों के हाथों से स्पर्श पाकर माता को चुनरी चढ़ाई गई। भक्तों ने भंडारे में प्रसाद का लाभ लिया। संचालन विक्रम दुगड़ ने किया।
इसी तरह होसूर रोड स्थित सुसवाणी माता धाम में चैत्र नवरात्र महोत्सव घट स्थापना के साथ प्रारंभ हुआ। भंवरीबाई घेवरचंद सुराणा चेरिटेबल ट्रस्ट एवं सुराणा संघ बेंगलूरु के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित इस नवरात्र महोत्सव के आठों दिन प्रात: हवन, समयानुसार आरती का कार्यक्रम श्रद्धा एवं उल्लास के साथ संपन्न हो रहा है। नवरात्र के प्रथम दिन संपूर्ण मंदिर निर्माणकर्ता एवं संचालक भंवरीबाई घेवरचंद सुराणा परिवार के प्रतिनिधि के रूप में महिपाल सुराणा ने सपत्नीक धाम स्थल पर स्थापित देवियों का आह्वान करते हुए विधि विधानपूर्वक घट स्थापना की। घट स्थापना के बाद हवन भी हुआ। इस अवसर पर गोड़वाड़ भवन ट्रस्ट के मिश्रीमल राणावत, सुराणा संघ अध्यक्ष अशोक सुराणा, सुराणा संघ व सुसवाणी माता भक्त मंडल के सदस्य बड़ी संख्या में मौजूद रहे। सायं मुख्य न्यासी दिलीप-अर्चना सुराणा ने महाआरती का लाभ लिया।

 

भव्य पंडाल का निर्माण शुरू
बेंगलूरु. जैन युवा संगठन की ओर से होने वाले प्रभु महावीर के 2617वें जन्म कल्याणक महोत्सव में 144 से भी अधिक सहयोगी संघ संस्था एवं मंडल अपनी ओर से उत्कृष्ट सेवा प्रदान करेंगे।
संघ संस्था समिति के चेयरमैन जितेन्द्र लोढ़ा के अनुसार सभी सहयोगी संघ संस्थाओं के बीच कार्य विकेन्द्रीकरण गतिमान है। स्टॉल वितरण समिति के चेयरमैन मुकेश सुराणा के अनुसार आयोजन स्थल कुंडलपुर नगरी (फ्रीडम पार्क) में करीब 44 स्टॉलें बनाई जा रही हंै, जिनके माध्यम से मानव सेवा तथा अन्य व्यवस्थाओं का कार्य संपादित होगा। आयोजन स्थल पर पांडाल निर्माण कार्य शुरू हो चुका है।


वर्धमान प्रसादी कार्य आरंभ
जन्म कल्याणक महोत्सव आयोजन के लिए वर्धमान प्रसादी का कार्य शूले (अशोकनगर) स्थित एसएस जैन ट्रस्ट सदन में शुरू हो गया। जैन युवा संगठन के मंत्री दिलीप संचेती के अनुसार वर्धमान प्रसादी का लाभ मोहनलाल भरत कुमार जयचंद रांका परिवार यलगुण्डापाल्यम ने लिया है। चेयरमैन अनिल सुराणा अपनी टीम के साथ इस कार्य को मूतरूप देने में जुटे हैं। वितरण के लिए पांच कक्ष का निर्माण किया जा रहा है। 40 से अधिक सहयोगी संघ संस्थाएं वितरण कार्य संभालेंगे। संगठन के अध्यक्ष विनोद नंदावत, उपाध्यक्ष भरत रांका, सहमंत्री अनुराग ललवाणी एवं कोषाध्यक्ष दिनेश खिंवेसरा ने तैयारियों का निरीक्षण किया।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।