मानव भव में मिलती है कर्मों से मुक्ति

By: Ram Naresh Gautam

Published On:
Sep, 09 2018 05:02 PM IST

  • इनमें आलोचना को सबसे महत्वपूर्ण बताया गया है

बेंगलूरु. दक्षिण नाकोड़ा तीर्थ संकटमोचन पाŸव भैरव धाम, अरसीकेरे में पर्युषण महापर्व के तीसरे दिन श्रावक शैलेशभाई ने अष्ठाह्निका प्रवचन में श्रावक जन्म के वार्षिक ग्यारह कत्र्तव्यों की विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि अनंतानंत पुण्य से मिले इस मानव भव को कर्मों की जंजीर से मुक्ति पाने का सीधा और सरल उपाय ही यह ग्यारह कत्र्तव्य हंै। इनमें आलोचना को सबसे महत्वपूर्ण बताया गया है। प्रवचन के बाद कल्पसूत्र को बाजते गाजते तीर्थ प्रदीक्षणा देते हुए लाभार्थी परिवार द्वारा मंदिर में स्थापित किया गया। बेंगलूर, हासन, अरसीकेरे आदि से श्रावक- श्राविकाओं ने हर्षोल्लास के साथ भाग लिया।

 

किसी भी भाजपा नेता ने संपर्क नहीं किया : रमेश जारकीहोली
बेलगावी. किसी भी भाजपा नेता ने मेरे साथ संपर्क नहीं किया है। मैंने बेलगावी जिले में बूथस्तर से लेकर कांग्रेस का संगठन तैयार किया है, ऐसे में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने का सवाल ही पैदा नहीं होता है। लघु उद्यम मंत्री रमेश जारकीहोली ने यह बात कही। यहां शनिवार को उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री बी.एस. येड्डियूरप्पा राज्य के वरिष्ठ राजनेता हंै। ऐसे में अगर वे चायपान के लिए उनके घर आना चाहते हैं तो उनका स्वागत है, लेकिन किसी भी हालत में मैं भाजपा में शामिल होने का प्रस्ताव कतई स्वीकार नहीं करूंगा।

पूर्वमंत्री सतीश जारकीहोली ने कहा कि मीडिया के कारण बेलगावी तहसील के पीएलडी बैंक का चुनाव सुर्खियों में आया। साथ में राज्य की 6 करोड़ जनता की नजरें में भी इस बैंक के चुनाव पर थीं। पार्टी के हितों को सर्वोपरि मानकर जिले के कांग्रेस नेताओं ने इस समस्या का समाधान कर लिया है।
एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मैं मंत्री पद इच्छुक नहीं हूं। अगर भविष्य में उनके स्वाभिमान को ठेस पहुंचाने का प्रयास किया जाता है तो वे इसके खिलाफ संघर्ष करेंगे। ऐसी स्थिति में कोई भी राजनीतिक फैसला लेने के लिए जारकीहोली परिवार स्वतंत्र है।

Published On:
Sep, 09 2018 05:02 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।