जिलाधिकारी ने किया चीनी मिल का दौरा

Shankar Sharma

Publish: Sep, 11 2018 11:25:54 PM (IST)

जिलाधिकारी डॉ. एच.आर. महादेव ने हल्लीखेड(बी) ग्राम स्थित बीदर सहकारिता चीनी मिल का दौरा कर मशिनों की जांच की।

बीदर. जिलाधिकारी डॉ. एच.आर. महादेव ने हल्लीखेड(बी) ग्राम स्थित बीदर सहकारिता चीनी मिल का दौरा कर मशिनों की जांच की। चीनी मिल के अधिकारी एवं कर्मचारीयों से वास्तविकता से अवगत कराया।

इसके बाद आयोजित बैठक में जिलाधिकारी डॉ. महादेव ने चीनी मिल के लिए जरूरी कर्मचारी, मशिनों की मरम्मत, गन्ना कटाई के लिए आवश्यक मजदूर और माली हालात के बारे में विस्तृत जानकारी हासिल की। इस चीनी मिल को शीघ्र आरम्भ करने को लेकर अधिकारियों से चर्चा की।मौके पर मौजुद कर्मचारी, किसान, लारी मालिक, गन्ना कटाव करने वाले संघ संस्थाओं के प्रमुखों के साथ भी जिलाधिकारी ने कई मुद्दों पर चर्चा की।इस अवसर पर चीनी मिल के प्रभारी प्रबंध निर्देशक विश्वनाथ मलकोड तथा मिल के अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।

रेल कर्मियों के बच्चों ने दिखाई प्रतिभा
हुब्बल्ली. दक्षिण पश्चिम रेलवे (दपरे) महिला कल्याण संघ की ओर से नॉन गेजेटेड रेलवे कर्मचारियों के बच्चों के लिए रविवार को चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। दपरे मुख्यालय तथा वर्कशॉप में कार्य करने वाले कर्मचारियों के बच्चों के लिए इंग्लिश मीडियम हाईस्कूल तथा हुब्बल्ली मंडल के कर्मचारियों के बच्चों के लिए रेलवे हाईस्कूल में प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। यह प्रतियोगिता 7 से 9 वर्ष, 9 से 11 तथा 11 से 13 वर्ष की आयु के तीन ग्रुप में हुई। हर ग्रुप से तीन बेहतरीन प्रतिभागियों को अंतर मंडल प्रतियोगिता के लिए चयन किया जाएगा। इस प्रतियोगिता में कुल 247 बच्चों ने भाग लिया था। संघ की अध्यक्ष दीपाली गुप्ता तथा हुब्बल्ली मंडल की अध्यक्ष अर्चना मोहन ने बच्चों को बिस्कुट तथा लेखन सामाग्री वितरित की। इस अवसर पर संघ के पदाधिकारी उपस्थित थे।

अगले सप्ताह हो सकता है फैसला : तमण्णा

बेंगलूरु. राज्य के परिवहन मंत्री डी.सी. तमण्णा ने एक बार फिर से दोहराया है कि पेट्रोल व डीजल के दामों में लगातार हो रही बढ़ोतरी के कारण कर्नाटक राज्य सडक़ परिवहन निगम की बसों को किराए में बढ़ोतरी करना अनिवार्य हो गया है और विभाग ने बस किराए में 18 प्रतिशत की बढ़ोतरी करने का राज्य सरकार के पास प्रस्ताव भेजा है।

तमण्णा ने रविवार को मंड्या जिले के मद्दूर तालुक के मादनायकनहल्ली में कहा कि निगम को पिछले तीन माह में 180 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। अगले सप्ताह में ही मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी के साथ विचार विमर्श करके किराया बढ़ाने के संबंध में अंतिम निर्णय किया जाएगा।

ईंधन के दाम बढऩे के कारण केएसआरटीसी, बीएमटीसी सहित सभी निगमों के बस किराए को बढ़़ाने के सिवा सरकार के पास अन्य कोई विकल्प नहीं बचा है।

More Videos

Web Title "District Collector visits sugar mill"