बीबीएमपी ने पीओपी निर्मित 281 मूर्तियां जब्त की

By: Rajendra Shekhar Vyas

Updated On:
24 Aug 2019, 06:54:49 PM IST

  • मूर्तियां बनाने के स्थानों पर छापा
    दस लाख रुपए की मूर्तियां जब्त
    छह फीट से अधिक ऊंची मूर्तियों को क्रेन की सहायता से लॉरियों में भरकर ले जाया गया

बेंगलूरु. पालिका के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने पुलिस की कड़ी सुरक्षा के बीच पिछले दिनों पीओपी से बनी 281 गणेश मूर्तियों को जब्त किया। लाल बाग पश्चिम द्वार के पास, आर.वी.रोड के मावल्ली में बीबीएमपी ने पुलिस के साथ पीओपी मूर्तियों की बिक्री केन्द्रों और मूर्तियां बनाने के स्थानों पर छापा मार कर मूतियों को जब्त किया। साथ ही छह फीट से अधिक ऊंची मूर्तियों को क्रेन की सहायता से लॉरियों में भरकर ले जाया गया। अधिकारियों ने बताया कि आर.वी. रोड और वी.वी. पुरम की दुकानों में सैकडों मूर्तियां बना कर बिक्री के लिए रखी गई थी। पालिका ने पहले ही नोटिस जारी कर पीओपी मूर्तियों को बनाने और बिक्री पर रोक चेतावनी दी गई थी। इसके बावजूद नोटिस का उल्लंघन कर मूर्तियां बनाई गई। बीबीएमपी की कार्रवाई में 8 लॉरियां, दो क्रेन, 30 कर्मचारी, 15 अधिकारी और पचास से अधिक पुलिस कर्मियों की मदद ली गई।
विक्रेताओं ने किया विरोध
मूर्तियों को जब्त किया गया तो दुकानदारों ने इसका विरोध किया और धरना देने लगे। मूर्ति विक्रेताओं ने अधिकारियों से दो दिन का समय मांगा और इन मूर्तियों को दूसरी जगह स्थान्तरित करने की बात कही। हालांकि अधिकारियों ने सीधी कार्रवाई की और पुलिस की मौजूदगी में सभी मूर्तियों को जब्त कर लिया। मूर्तियों में 16 मूर्तियां छह फीट से भी अधिक की हैं। दक्षिण क्षेत्र के संयुक्त आयुक्त वीरभद्रस्वामी के नेतृत्व में कार्रवाई की गई।

Updated On:
24 Aug 2019, 06:54:49 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।