परीक्षा देने निकली 12वीं की छात्रा 7 दिन बाद जंगल में इस हाल में मिली, लाश देखकर चरवाहे रह गए सन्न

By: Ram Prawesh Wishwakarma

Published On:
Mar, 28 2019 09:45 PM IST

  • 6 दिन खोजबीन के बाद भी जब छात्रा नहीं मिली तो परिजन ने थाने में दर्ज कराई थी गुमशुदगी की रिपोर्ट

वाड्रफनगर. बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के ग्राम रजखेता में 20 मार्च को एक छात्रा परीक्षा देने घर से निकली थी। शाम तक वह घर नहीं लौटी तो परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरु की। इसी बीच 28 मार्च को उसकी लाश चरवाहों ने जंगल में पेड़ पर फांसी के फंदे पर झूलते देखी।

छात्रा की शिनाख्त पुलिस के पहुंचने के बाद हो सकी। छात्रा की लाश मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।


बलरामपुर जिले के वाड्रफनगर चौकी अंतर्गत ग्राम पंचायत रजखेता निवासी अमरलाल पठारी की 20 वर्षीय पुत्री रानी पठारी कक्षा बारहवीं की छात्रा थी। वह 20 मार्च को घर से प्रैक्टिकल परीक्षा देने कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल वाड्रफनगर जाने निकली थी, लेकिन शाम तक घर नहीं लौटी।

काफी खोजबीन के बाद परिजन ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट 26 मार्च को वाड्रफनगर चौकी में दर्ज कराई। पुलिस उसकी खोजबीन में जुटी थी, इसी दौरान गुरुवार को रजखेता के जंगल में चरवाहों ने एक युवती का शव पेड़ पर लटका देखा। इस घटना की सूचना पुलिस को दी गई।

इस पर चौकी प्रभारी सुनील तिवारी दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे और शव की शिनाख्त रानी पठारी के रूप में की। पुलिस ने पंचनामा के बाद शव को पीएम के लिए अस्पताल भेज दिया।

मृतिका की १२वीं की परीक्षा अच्छी नहीं गई थी, संभवत: इसी कारण से उसने आत्महत्या कर ली। फिलहाल पुलिस मर्ग कायम कर आगे की कार्रवाई के लिए पीएम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

Published On:
Mar, 28 2019 09:45 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।