आखिर ऐसा क्या हो गया कि आपस में गाली-गलौच करने लगे कांग्रेसी

By: Chandra Kishor Deshmukh

Published On:
Sep, 12 2018 09:05 AM IST

  • जिला कांग्रेस भवन में मंगलवार को स्क्रीनिंग कमिटी की बैठक हुई। जहां जिला पंचायत अध्यक्ष देवलाल ठाकुर और डौंडीलोहारा कांग्रेस के कार्यकर्ता शीबू नायर के बीच विवाद हो गया।

बालोद. जिला कांग्रेस भवन में मंगलवार को स्क्रीनिंग कमिटी की बैठक हुई। जहां जिला पंचायत अध्यक्ष देवलाल ठाकुर और डौंडीलोहारा कांग्रेस के कार्यकर्ता शीबू नायर के बीच विवाद हो गया। हालांकि गाली-गलौज और विवाद के मामले को जिला पंचायत अध्यक्ष ने सिरे से खारिज कर दिया। इधर शीबू नायर के मुताबिक बैठक के दौरान गाली-गलौज हुई है।

बता दें कि कांग्रेस भवन में जिले के तीनों विधानसभाओं से दावेदार सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे। पर हुए विवाद के कारण बैठक स्थल पर ही कार्यकर्ताओं की भीड़ लग गई थी। बताया जाता है कि जिला पंचायत अध्यक्ष ही गाली-गलौच कर रहे थे। बताया गया कि जिला पंचायत अध्यक्ष देवलाल ने शीबू सहित उनके साथ रहे कार्यकर्ताओं के साथ भी गाली-गलौज की है।

यह था पूरा मामला
कांग्रेस के शीबू नायर के मुताबिक मंगलवार को हुई बैठक में स्क्रीनिंग कमिटी से कांग्रेस के पर्यवेक्षक अरुण उमराव से सबको मिलना था, तभी जिला पंचायत अध्यक्ष देवलाल ने कांग्रेस से निष्कासित श्याम लाल जायसवाल को पर्यवेक्षक से मिलाने ले जा रहे थे। इस बात को लेकर आपत्ति की गई और मना किया तो वे भड़क गए और फिर गाली-गलौज पर उतारू हो गए। वे कार्यकर्ताओं को भी गाली देने लगे। इस दौरान बड़ी संख्या में पुरुष के साथ महिला कार्यकर्ता भी मौजूद रहीं। उसके बाद भी उन्होंने यहां पर उसने गाली-गलौज कर दी।

पार्टी की एकता पर उठने लगे सवाल
मामले पर जिला पंचायत अध्यक्ष देवलाल ठाकुर ने कहा कि बैठक में कहीं किसी से विवाद नहीं हुआ है। यह गलत जानकारी है। बैठक शांति पूर्वक हुई है। इधर लोगों में चर्चा है कि ऐसी पार्टी की महत्वपूर्ण बैठक में हुई इस तरह की घटना ने चुनाव से पहले ही कांग्रेस पार्टी में एकजुटता पर सवाल उठ रहा है। एक ओर जहां पार्टी सभी को साथ व मिलकर काम करने की बात कह रही है, पर यहां पर हुए विवाद से पार्टी को खतरे में डाला जा रहा है।

Published On:
Sep, 12 2018 09:05 AM IST