उपासिकाओं ने किया हरितालिका का निर्जला व्रत बाजारों में रही चहल-पहल

By: Mahesh Kumar Doune

Published On:
Sep, 12 2018 11:20 AM IST

 
  • उपासिकाओं ने किया हरितालिका का निर्जला व्रत बाजारों में रही चहल-पहल

बालाघाट. पति की लंबी उम्र व सुख समृद्धि की कामना को लेकर सुहागन महिलाओं व मन चाहा वर पाने कुंआरी कन्याओं द्वारा १२ सितम्बर को हरितालिका का निर्जला व्रत किया जाएंगा। सुबह वृतधारी महिलाओं व कन्याओं ने बांस से बने टोकनी व पड्डों में भुजलियां लेकर नदी व तालाब एवं नालों के तट पहुंच गौर लेकर पूजा अर्चना कर व्रत की शुरूआत की जावेगी। इस पर्व को लेकर मंगलवार को बाजार में महिलाओं की पूजन सामग्री खरीदने बाजार में काफी भीड़ रही। तीजा पर्व को लेकर बाजारों में बांस की टोकनी व पारणा सहित पूजन सामग्री की जगह-जगह दुकानें सजी रही। गौरतलब हो कि भगवान शंकर को पाने के लिए माता पार्वती ने इस कठिन वृत को किया था। जिससे उन्हें पति के रूप में भोलेनाथ मिले। इसी मंशा से कुंवारी कन्याएं मनचाहा वर पाने हरितालिका का वृत करती है। महिलाओं द्वारा घरों में फूलेरा बांध रंग-बिरंगे फूलों से फूलेरा सजाया जाता है और रात-भर भजन कीर्तन कर रतजगा कर दूसरे दिन सुबह फूलेरा व गौर विसर्जन किया जाएंगा। ये वृत काफी कठिन होता है।

Published On:
Sep, 12 2018 11:20 AM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।