उपासिकाओं ने किया हरितालिका का निर्जला व्रत बाजारों में रही चहल-पहल

mahesh doune

Publish: Sep, 12 2018 11:20:13 AM (IST)

Balaghat, Madhya Pradesh, India

उपासिकाओं ने किया हरितालिका का निर्जला व्रत बाजारों में रही चहल-पहल

बालाघाट. पति की लंबी उम्र व सुख समृद्धि की कामना को लेकर सुहागन महिलाओं व मन चाहा वर पाने कुंआरी कन्याओं द्वारा १२ सितम्बर को हरितालिका का निर्जला व्रत किया जाएंगा। सुबह वृतधारी महिलाओं व कन्याओं ने बांस से बने टोकनी व पड्डों में भुजलियां लेकर नदी व तालाब एवं नालों के तट पहुंच गौर लेकर पूजा अर्चना कर व्रत की शुरूआत की जावेगी। इस पर्व को लेकर मंगलवार को बाजार में महिलाओं की पूजन सामग्री खरीदने बाजार में काफी भीड़ रही। तीजा पर्व को लेकर बाजारों में बांस की टोकनी व पारणा सहित पूजन सामग्री की जगह-जगह दुकानें सजी रही। गौरतलब हो कि भगवान शंकर को पाने के लिए माता पार्वती ने इस कठिन वृत को किया था। जिससे उन्हें पति के रूप में भोलेनाथ मिले। इसी मंशा से कुंवारी कन्याएं मनचाहा वर पाने हरितालिका का वृत करती है। महिलाओं द्वारा घरों में फूलेरा बांध रंग-बिरंगे फूलों से फूलेरा सजाया जाता है और रात-भर भजन कीर्तन कर रतजगा कर दूसरे दिन सुबह फूलेरा व गौर विसर्जन किया जाएंगा। ये वृत काफी कठिन होता है।

Web Title "The devotees did the lavish stroke of Haritlika's flowing fast markets"