प्रतिवर्ष पौध रोपण कर उनकी सुरक्षा का लिया संकल्प

By: Mukesh Yadav

Updated On:
25 Aug 2019, 06:59:17 PM IST

  • पत्रिका हरित प्रदेश अभियान का मांझापुर आईटीआई में किया गया भव्यतम समापन
    पूरे अभियान के दौरान रोपित किए गए ३०० से अधिक पौधे
    एक हजार से अधिक आमजन बने सहभागी

बालाघाट. प्रतिवर्ष की तरह इस बार भी पिछले माहो में शुरू किए गए पत्रिका के सामाजिक सरोकार के अभियान हरित प्रदेश (पौध रोपण) का २५ अगस्त को भव्य समापन किया गया। हर बार की तरह इस बार भी अभियान को आमजनों का अच्छा प्रतिसाद मिला। कारण यही रहा कि पूरे अभियान के दौरान करीब दो दर्जन से अधिक सामाजिक, शैक्षणिक संगठनों के साथ बड़ी संख्या में आमजन भी इस अभियान में भागीरथ बने और कुल करीब एक हजार से अधिक लोगों ने अभियान के दौरान ३०० सौ से अधिक कीमती, फलदार, फूलदार, छायादार सहित अन्य इमारती पौधों का रोपण किया। वहीं उनकी सुरक्षा के लिए ट्री गार्ड भी लगाए और जीवन पर्यंत तक उनकी देखभाल की जिम्मेदार भी ली।
समापन कार्यक्रम शहर के समीपस्थ ग्राम मांझापुर की सतपुड़ा आईटीआई में आयोजित किया गया था। यहां दो सैकड़ा से अधिक शिक्षक-शिक्षिकाओं और विद्यार्थियों ने एक एकड़ से भी अधिक में फैले विशालकाय मैदान में पौध रोपणकर अभियान समापन को सार्थक बनाया। इस दौरान संस्था के डायरेक्टर मुक्तानंद गौतम और नरेश धुवारे ने सभी को अपने जीवन काल में कम से कम एक पौधा लगाने और उनकी सुरक्षा के साथ ही आईटीआई परिसर में रोपे गए पौधों की देखभाल किए जाने की जिम्मेदारी भी सौंपी। अंत में सभी ने पत्रिका अभियान की सराहना करते हुए पर्यावरण संरक्षण और हरियालो बालाघाट बनाने में पत्रिका अभियान को मील का पत्थर साबित होने की बात कही।
यह रहे शामिल
पत्रिका हरित प्रदेश अभियान के समापन पर प्रमुख रूप से सतपुड़ा आईटीआई मांझापुर डायरेक्टर मुक्तानंद गौतम, डायरेक्टर नरेश धुवारे, प्राचार्य कमल ब्रम्हे, विजय पटले, प्रशांत मिश्रा, गौरव तिवारी, विनोद ब्रम्हे, गणेश मेश्राम, रविन्द्र तितरमारे, निरंजन वामनकर, लकेश सुखदेवे, विजय परिहार, होमेन्द्र पटले, मिथुन घाटे, आनंद अंगुरे, सुनील भालेराव, मुर्तेश्वर बिसेन, मुकेश खोब्रागढ़े, केदार पटले, योगेन्द्र राउत के साथ ही बड़ी संख्या में विद्यार्थीगण उपस्थित रहे।

Updated On:
25 Aug 2019, 06:59:17 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।