रसोइयों ने मांगों को लेकर धरना देकर रैली निकाल सौंपा ज्ञापन

By: Mahesh Kumar Doune

Published On:
Aug, 13 2019 09:05 PM IST

  • स्व-सहायता समूह की महिलाओं व रसोइयां द्वारा अपनी मांगों को लेकर 13 अगस्त को एक दिवसीय सामूहिक हड़ताल व धरना प्रदर्शन किया।

बालाघाट. स्व-सहायता समूह की महिलाओं व रसोइयां द्वारा अपनी मांगों को लेकर 13 अगस्त को एक दिवसीय सामूहिक हड़ताल व धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान बस स्टैण्ड परिसर धरना स्थल से रैली निकाल कलेक्टर कार्यालय पहुंच मुख्यमंत्री के नाम मांगों के संबंध में ज्ञापन सौंपा गया। इस दौरान प्रमुख रूप से भारतीय मजदूर संघ अध्यक्ष राजेश वर्मा, भारतीय स्व-सहायता समूह एवं रसोइयां संघ जिलाध्यक्ष लीला नगपुरे, उपाध्यक्ष अनिमेष खरे, सुभाष गुप्ता, नितेन्द्र श्रीवास्तव शामिल रहे।
इस दौरान भारतीय मजदूर संघ जिलाध्यक्ष वर्मा ने कहा कि स्कूलों व आंगनवाड़ी केन्द्रों में समूह द्वारा शासन की योजनानुसार विगत कई वर्षो से मध्यान्ह भोजन बनाने का कार्य किया जा रहा है। लेकिन शासन द्वारा 500 रुपए से 2000 रुपए मानदेय के रूप में देकर शोषण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि काफी समय से रसोइयां बहनों द्वारा अपनी जायज मांगों को लेकर धरना आंदोलन किया जा रहा है। लेकिन शासन द्वारा मांगों पर अमल नहीं किया जा रहा है। शासन द्वारा मांगों का शीघ्र निराकरण नहीं किया गया तो उग्र आंदोलन करने बाध्य होना पड़ेगा।
ये है प्रमुख मांगें
मध्यान्ह भोजन में ठेका प्रथा लागू नहीं किया जाए। रसोइयों को शासकीय कर्मचारी घोषित कर सामाजिक सुरक्षा के दायरे में लाया जावे व न्यूनतम वेतन, पेंशन, बीमा का लाभ प्रदान किया जाए। रसोइयां बहनों को वर्तमान सरकार द्वारा ३००० रुपए मानदेय देने की घोषणा की गई थी जिसे तत्काल लागू किया जाए। समूह को प्रति थाली प्राथमिक स्कूल में १० रुपए व माध्यमिक स्कूल में १५ रुपए प्रदान किया जाए

Published On:
Aug, 13 2019 09:05 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।