चलते ट्रोले का फटा टायर, तीन पेड़ तोड़कर दुकानों से जा टकराया

By: Ramakant Dadhich

Updated On:
14 Mar 2019, 11:19:41 PM IST

  • - दहमीबालाजी कट पर दुर्घटना
    - जनहानि नहीं, बड़ा हादसा टला

बगरू. जयपुर-अजमेर राजमार्ग पर दहमीबालाजी कट पर गुरुवार तड़के करीब सवा पांच बजे टायर फटने से अनियंत्रित हुए ट्रोले ने लोहे की रैलिंग को तोड़ते हुए पास की दुकानों के टीन शेड तोड़कर तीन पेड़ों में जा घुसा। दुर्घटना में भारी पेड़ भी धराशायी हो गए हालांकि कोई हताहत नहीं हुआ। इससे बड़ा हादसा टल गया। ट्रोला इन दुकानों के अदंर घुस जाता तो बड़ा हादसा हो जाता। इस दौरान एक दुकान के संचालक व वार्डपंच रामदेव बैताडिय़ा व राजेश कुमावत ने बताया कि गुरुवार को तड़के करीब सवा पांच बजे अचानक तेज धमाका हुआ। दुकान से बाहर आकर देखा तो ट्रोला उनकी दुकान के टीन शेड तोड़ता हुआ तीन पेड़ों को टकराकर खड़ा था।
हादसे के बाद काफी भीड़ जमा हो गई। हादसे मेें ट्रोले का आगे का पूरा हिस्सा ही कबाड़ में तब्दील हो गया। हादसे के दौरान चालक केबिन में फसं गया था, जिसको ग्रामीणोंं की मदद से बाहर निकाला गया। ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस घटनास्थल पर सुबह व दोपहर मेें आ गई थी लेकिन वह देखकर ही वापस चली गई थी के्रन आदि को बुलाने की शाम तक भी जहमत नहीं उठाई गई हालंाकि ट्रोला डिवाइडर चढ़ा हुआ था, सड़क पर होता तो राजमार्ग भी जाम हो सकता था। ट्रोले में केबिल के बंड़ल रखे हुए थे।

जानकारी के अनुसार तीन ट्रोले जयपुर से अजमेर की ओर जा रहे थे कि तीनों की तेज गति होने के कारण तीनों वाहनों के आपस में पीछे से कोने टच हो गए जिनमें दो तो आगे निकल गए इस ट्रोले के टायर फट जाने से वह अनियंत्रित होकर जीवीके की कट पर लगी हुई लोहे की रैलिंग को तोड़ता हुआ डिवाइडर पर चढ़ गया। राधागोविन्द गोशाला के सीमेन्ट व लोहे के बने दान पात्र भी टायर के नीचे आ जाने से क्षतिग्रस्त हो गए। दुकानों के पास रखी हुई लोहे की प्याऊ भी क्षतिग्रस्त हो गई। इसके पास ही गौत्तम टी स्टाल के मालिक बनवारीलाल शर्मा ने बताया कि जब वह दुकान खोलने के लिए सुबह छह बजे आए तो दुकान का तिरपाल, प्लास्टिक की टंकी, पानी का कैन तथा करीब दस साल पुराने उनके द्वारा लगाए हुए दो खेजड़ी के पेड़ व एक शहतूत का भारी पेड़ धराशायी मिले। दुकान क्षतिग्रस्त होने में बाल-बाल बच गई। इस दौरान ग्रामीणों ने कहा कि पेड़ों के नहीं होने से यहां अब गर्मी में छाया ही नहीं रहेगी, कहां पर बैठेंगे।

 

ब्रेकरों पर रेडियम व हाईमास्ट लाइट लगाने की मांग
श्रीबालाजी सेवा समिति कोषाध्यक्ष चंदालाल कुमावत व ग्यारसीलाल बैताडिय़ा आदि ग्रामीणेां ने बताया कि दहमी बालाजी कट पर आए दिन हादसे होते रहते हैं। हाल ही में जीवीके द्वारा ब्रे्रकर तो बना दिए गए, लेकिन उन पर चमकीली रेडियम नहीं लगने से वाहन चालकों को रात में ब्रेकरों का भी पता नहीं चल पाता है। ग्रामीणोंं ने जीवीके प्रशासन से रेडियम, हाई मास्ट लाइट लगाने तथा जेब्रा निशान लगाने की मांग की है।

Updated On:
14 Mar 2019, 11:19:41 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।