#changemaker : स्वच्छ राजनीति का लिया संकल्प

By: Ramakant Dadhich

Published On:
Mar, 17 2019 11:35 PM IST

  • - चेंजमेकर्स की बैठक
    - सरकारी व निजी स्कूलों में पुस्तकालयों की अनिवार्यता होनी चाहिए
    - टोलप्लाजा टाटियावास पर कम से कम 16 लेन होनी चाहिए

चौमूं. शहर के नया बाजार स्थित अग्रवाल धर्मशाला में लोकसभा चुनावों के मद्देनजर राजस्थान पत्रिका के चेंजमेकर्स अभियान को लेकर रविवार को आयोजित बैठक में न सिर्फ बेदाग छवि, ईमानदार एवं विकास की सोच रखने वाले प्रत्याशी उतारने का समर्थन किया, बल्कि लोकसभा क्षेत्र के चौमूं विधानसभा क्षेत्र में भी विकास के मुद्दों पर खुलकर चर्चा की गई। बैठक में नगरपालिका के नेता प्रतिपक्ष शैलेन्द्र चौधरी ने कहा कि नगरपालिका क्षेत्र में 36 करोड़ पेयजल योजना के बावजूद व्याप्त पानी की समस्या के लिए बीसलपुर बांध का पानी चौमूं तक लाने की योजना बननी चाहिए, जिससे नगरपालिका क्षेत्र के अलावा सैकड़ों गांव लाभान्वित हो सकें। वरिष्ठ नागरिक कल्याण परिषद के महामंत्री कृष्णमुरारी पारीक ने कहा कि चौमूं गढ़ के चहुंओर बनी प्राचीन नहर एवं बस स्टैण्ड के पास स्थित प्राचीन बावड़ी का अस्तित्व मिटने के कगार पर है। बावड़ी व नहर का जीर्णोद्धार हो।

 

अत्याधुनिक पुस्तकालय की जरूरत
अम्बेडकर विचार मंच के पदाधिकारी ओपी सेठी ने चौमूं में बड़ा एवं अत्याधुनिक पुस्तकालय खोलने की युवाओं एवं नई पीढ़ी की जरूरत बताया। उन्होंने कहा कि सरकारी व निजी स्कूलों में पुस्तकालयों की अनिवार्यता होनी चाहिए। बार एसोसिएशन के अध्यक्ष महेन्द्रकुमार सैनी ने कहा कि टोलप्लाजा टाटियावास पर कम से कम 16 लेन होनी चाहिए, जिससे वाहन चालकों को जाम की समस्या से छुटकारा मिल सके। उन्होंने सीकर लोकसभा क्षेत्र के ही व्यक्ति को टिकट देने एवं चौमूं में सभी न्यायालय एक ही परिसर में संचालित किए जाने की मांग की। यादव समाज के आशीष यादव ने शहर को जाम से स्थायी मुक्ति दिलाने के लिए टांकरडा से जैतपुरा बाइपास निर्माण, चौमूं में सेटेलाइट चिकित्सालय एवं चौमूं विधानसभा क्षेत्र के बड़े कस्बों में सरकारी कॉलेज खुलने की मांग उठाई।


आवारा जानवरों से मिले निजात
स्वर्णकार समाज के पवनकुमार सोनी ने कहा कि चौमूं शहर को बंदरों एवं आवारा जानवरों से निजात दिलाई जानी चाहिए। जाट समाज के महेन्द्र लांबा ने कहा कि चौमूं में मृत मवेशियों को उठाने की कोई व्यवस्था नहीं है, जबकि पूर्व में मृत मवेशियों को उठाने का ठेका दिया जाता था। उन्होंने कहा कि मृत मवेशियों को उठवाने के लिए पशुपालकों को मिन्नतें करनी पड़ती हैं। वीर तेजाजी विकास समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व पालिका उपाध्यक्ष कालूराम जाट ने चुनाव में शांतिपूर्ण मतदान के लिए पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था के अलावा इवीएम व वीवीपेट मशीनों की पुख्ता व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनावों में कई जगह मशीनें खराब होने से व्यवस्था प्रभावित हुई थी। उन्होंने चौमूं में बंद पड़ी पुलिस चौकियों को चालू करवाने एवं यातायात पुलिसकर्मी तैनात करने की मांग उठाई।

 

वेट व जीएसटी पर करें विचार
संयुक्त व्यापार मंडल के अध्यक्ष पदमचंद बडज़ात्या ने कहा कि वेट व जीएसटी ने व्यापारियों की हालत खराब कर दी है। राजनीतिक दलों को इस पर विचार करना चाहिए। बडज़ात्या ने शहर के बावल्या बाजार को खेल स्टेडियम के पास लगवाने एवं चौपड़ से बस स्टैण्ड से लगवाने जाम से मुक्ति दिलवाने की मांग की। वरिष्ठ नागरिक एवं पार्षद श्याम कर्मवीर ने कहा कि शहर में परकोटे के चारों ओर बने प्राचीन दरवाजों के समीप बने छोटे दरवाजों को भी खुलवाने एवं इनका जीर्णोद्धार करने की मांग उठाई, जिससे यातायात व्यवस्था सुचारू हो सके। युवा जाट समाज समिति चौमूं-आमेर के अध्यक्ष लालाराम गुलिया ने कहा कि चौमूं के राजकीय चिकित्सालय में पनप रही रैफर टू जयपुर की परम्परा पर अंकुश लगना चाहिए। उन्होंने कहा कि चिकित्सक आपातकालीन कक्ष में से ही अधिकतर मरीजों को जयपुर रैफर कर देते हैं, जबकि उनका इलाज यही पर हो सकता है। बैठक में एक निजी यूनिवर्सिटी के उप निदेशक संदीप अग्रवाल ने चौमूं विधानसभा क्षेत्र में तकनीकी कॉलेज की दरकार है। उन्होंने कहा कि नगरपालिका क्षेत्र में अधिकतर रोडलाइट खराब होने से जनता को रात्रि में अंधेरे में ही रास्ते पार करने पड़ते हैं।


ईमानदार व बेदाग हो प्रत्याशी
बैठक में मौजूद लोगों ने लोकसभा चुनावों के दौरान स्वच्छ राजनीति करने की शपथ ली। साथ ही राजनीतिक दलों से ईमानदार, बेदाग छवि एवं बिना भेदभाव के चहुंमुखी विकास करने वाले व्यक्ति को प्रत्याशी बनाने पर जोर दिया।

Published On:
Mar, 17 2019 11:35 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।