Ram Mandir Case : मुस्लिम भाइयों ने बनवाई रामलला की बालस्वरूप प्रतिमा कहा जल्द ही अपने घर में विराजमान होंगे रामलला

By: Anoop Kumar

Updated On:
11 Sep 2019, 06:52:49 PM IST

  • खबर के मुख्य बिंदु -

    - अयोध्या में मुस्लिम भाइयों का बड़ा तबका विवादित स्थल को मानता है राम जन्म भूमि

    - अयोध्या के कई मुस्लिम लगातार कर रहे है राम मंदिर निर्माण की मांग
    - बुधवार को तमाम मुस्लिम भाइयों ने रामलला की प्रतिमा को महंत परमहंस दास को सौंपा

अनूप कुमार
अयोध्या : सुप्रीम कोर्ट में चल रही राम मंदिर बाबरी मस्जिद केस की सुनवाई के बीच धार्मिक नगरी अयोध्या में भी नित नयी चीजें सामने आ रही हैं ,जहां एक तरफ हिन्दू समुदाय के तमाम लोग अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के संकल्प को पूरा करने के लिए कभी सुन्दर काण्ड का पाठ तो कभी सामूहिक पूजा कर रहे हैं , तो इस मामले को लेकर मुस्लिम समुदाय भी पीछे नहीं है ,लेकिन ख़ास बात ये है कि अयोध्या मे रहने वाले मुस्लिमों का एक बड़ा तबका बाबरी मस्जिद नहीं बल्कि विवादित स्थल को रामलला का जन्मस्थान मानता है और उस जगह पर मंदिर निर्माण की मांग भी कर रहे है | ऐसे ही मुस्लिमों के एक समूह ने बुधवार को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर लगातार विविध कार्यक्रम करने वाले महंत परमहंस दास को रामलला की बाल स्वरूप प्रतिमा भेंट की और यह इच्छा जताई की यह प्रतिमा मंदिर निर्माण के समय गर्भगृह में स्थापित की जाए |

ये भी पढ़ें - माथे पर तिलक लगाये और हाथों से प्रसाद बाँट रहे अख्तर भाई का मजहब न पूछिए


बुधवार की दोपहर लगभग 10 मुस्लिमों का एक दल जमशेद खान के नेतृत्व में भगवान राम की बाल रूप की सजी सजाई प्रतिमा लिए हुए तपस्वी छावनी के महंत परमहंस के पास पहुंचे और उनसे राम मंदिर निर्माण होने पर उक्त राम के बाल रूपी प्रतिमा को उसमें प्राण प्रतिष्ठित करने की इच्छा जताई। इसके बाद उसकी आरती उतारी गई। पूजा की गई और उसे भविष्य के राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठित करने के लिए सुरक्षित रख लिया गया।आपको बता दें कि हाल ही में दर्जनों की संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने राम मंदिर निर्माण कार्यशाला जाकर तराशे गए पत्थरों की सफाई की थी।इस तरह की गतिविधियां यह साबित करती है कि भले ही अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर प्रत्यक्ष में कोई हलचल ना दिखाई देती हो लेकिन भीतर ही भीतर सुगबुगाहट तेज है और क्या हिंदू क्या मुस्लिम सभी लंबे समय से चले आ रहे विवाद का अब अंत चाहते हैं।

ये भी पढ़ें - अयोध्या में बूथ नंबर चार के पास हुआ भीषण सड़क हादसा,शवों की शिनाख्त करना हुआ मुस्किल इस कदर हो गये क्षत विक्षत

Updated On:
11 Sep 2019, 06:52:49 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।