LoC पर पाक ने अपने सात लॉन्च पैड फिर किए एक्टिव, 275 जिहादियों को कश्मीर में घुसाने की तैयारी

By: Shweta Singh

Updated On: 11 Sep 2019, 08:40:58 AM IST

    • पाकिस्तान के भाग्य पर अक्टूबर में FATF करेगा फैसला
    • फिलहाल, बैंकॉक में पाकिस्तान दे रहा है आतंक पर हिसाब

इस्लामाबाद। एक तरफ पाकिस्तान पूरी कोशिश में है कि किसी भी तरह वह FATF की ग्रे लिस्ट से बाहर निकल आए, तो वहीं दूसरी तरफ वह अपनी हरकतों से भी बाज नहीं आ रहा है। आतंक को पनाहगाही देना और उग्रवादी नीतियां उसकी वो बुरी आदत बन चुकीं हैं, जिससे पाकिस्तान छोड़ नहीं पा रहा है।

अपनी इसी आदत के आदि और आतंकियों के आका पाकिस्तान ने भारत-पाक नियंत्रण रेखा (LoC) के पास सात लॉन्चिंग पैड्स को दोबारा एक्टिव किया है, ताकि वो जिहादियों को भारत में दाखिल करा सकें।

275 जिहादियों की घुसपैठी की तैयारी में पाक

मीडिया रिपोर्ट्‌स के मुताबिक, पाकिस्तान करीब 275 जिहादियों को जम्मू-कश्मीर में घुसपैठी कराने की खतरनाक योजना में है। इन आतंकियों में अफगानी और पश्तून के आतंकी भी शामिल हैं। आपको बता दें कि पाकिस्तान की इस नापाक हरकत का खुलासा ऐसे समय में हुआ है, जब उसका एक 15 सदस्यीय दल बैंकॉक में FATF को ये हिसाब देने पहुंचा है कि उसके देश ने आतंक को रोकने के लिए क्या किया है। और इसी आधार पर आगामी अक्टूबर में उसके भाग्य का फैसला होना है।

पाकिस्तानी सेना और ISI की मिलीभगत

एक उच्च अधिकारिक सूत्र ने मीडिया को बताया कि हालांकि, कश्मीर में दहशत फैलाने की पाक की योजना में अफगान और पश्तून जिहादियों की भागीदारी अभूतपूर्व नहीं है, यह काफी असामान्य है। यह सिलसिला 1990 से चला आ रहा है।

एक मीडिया हाउस ने दावा किया है कि उनके हाथ कुछ ऐसे दस्तावेज लगे हैं, जिनमें पाकिस्तान की चाल का खुलासा हुआ। दस्तावेजों के आधार पर पता चला है कि पाकिस्तानी सेना और ISI ने LoC के पास अधिक से अधिक आतंकियों को घुसाने के लिए लॉन्चपैड तैयार किए हैं। उनके निशाने पर उत्तरी कश्मीर का गुरेज सेक्टर बताया जा र हा है।

इन सेक्टरों पर निशाना

अभी तक पता चला है कि करीब 80 आतंकी गुरेज सेक्टर में, 60 मच्छल, 50 कारनाह, 40 केरान, 20 उरी, 15 नौगम और 10 रामपुर में अपना डेरा डाले बैठे हुए हैं।

फरवरी में घबराए पाक ने बंद किया था आतंकी अड्डा

आपको बता दें कि इन लॉन्चिंग पैड को फरवरी में पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले के बाद पाकिस्तान ने बंद कर दिया था। उस वक्त के वैश्विक दबाव और भारत के आक्रामक रवैए से घबराए पाक ने आतंकियों को छुपाना ही मुनासिब समझा था। इसके बाद भारत ने पाक सीमा के अंदर जाकर बालाकोट के आतंकी कैंपों पर एयरस्ट्राइक की थी।

आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही पाक दे रहा धमकी

हालांकि, कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान भारत में हिंसा करने की धमकी दे रहा है। इसी की तैयारी में उसने ये कदम उठाया है। बता दें कि इससे पहले भी सियालकोट में पाक ने अचानक ही सैनिकों की संख्या बढ़ा दी थी।

Updated On:
11 Sep 2019, 08:38:41 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।