मुर्गे ने अपने मालिक की ली जान, अब कोर्ट में होगी पेशी, यहां पढ़े पूरी खबर

|

Published: 28 Feb 2021, 09:11 AM IST

तेलगाना में एक मुर्गे ने गलती से अपने मालिक को मौत के घाट उतार दिया।
मुर्गे पर अपने मालिक की जान लेने का आरोप लगा है।
खबरों के अनुसार एक मुर्गे को पुलिस कोर्ट में पेश करेगी।

नई दिल्ली। आपने पुलिस, अपराधी और कोर्ट को लेकर कई खबरें पढ़ी होगी। इनमें से कुछ ऐसी अजीबोगरीब खबरें होती है, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो जाती है। इन खबरों को लोग रोचकता से पढ़ते हैं। इसी कड़ी में आज आपको एक अनोखी खबर बताने जा रहे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, तेलगाना में एक मुर्गे ने गलती से अपने मालिक को मौत के घाट उतार दिया। मुर्गे पर अपने मालिक की जान लेने का आरोप लगा है। खबरों के अनुसार पुलिस ने हत्या के आरोप में मुर्गे को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं कुछ खबरों में बताया गया है कि पुलिस ने मुर्गे को गिरफ्तार नहीं किया है।

मुर्गे पर मालिक की हत्या का आरोप
दरअसल, यह अनोखी घटना तेलंगाना के जगतियाल जिले के लथुनुर गांव की बताई जा रही है। खबरों के अनुसार एक मुर्गे को पुलिस कोर्ट में पेश करेगी। उस मुर्गे पर गलती से अपनी मालिक की हत्या करने का आरोप लगा है। हालांकि, पुलिस ने हत्या के आरोप में मुर्गे को ‘गिरफ्तार’ करने वाली खबरों को नकारा है। खबरों के अनुसार, 22 फरवरी को अवैध मुर्गों की फाइट की तैयारी चल रही थी। उसी दौरान मुर्गे के पैर से बंधा चाकू गलती से उसके मालिक की कमर के नीचे लग गया। इसके बाद वह घायल हो गया और बाद में उसकी मौत हो गई।

 

यह भी पढ़े :— 5 साल से जंगल में भटक रही थी भेड़, 35 किलो ऊन निकालकर ऐसे बचाई जान

 

गलती से मालिक की गई जान
एक रिपोर्ट के अनुसार, 45 वर्षीय थानुगुल्ला सतीश मुर्गे के पैर में ‘कोडी काठी’ (खास तरह का चाकू) बांध रहे थे। तभी गलती से चाकू से उनकी कमर के नीचे कट गया। इसके बाद सतीश के शरीर से बहुत सारा खून बहने और उसको अस्पताल भी लेकर गए। लेकिन वहां पर उसे मृत घोषित कर दिया।

कोर्ट में पेश होगा मुर्गा
आपको बता दें कि तेलंगाना में मुर्गों की लड़ाई पर प्रतिबंध लगा रखा है। इसके बावजूद कुछ लोगों ने छुपके से गांव में येलम्मा मंदिर के पास इसका आयोजन किया था। इस घटना के बाद पुलिस मुर्गे को गोलापल्ली थाने ले आई। जहां उसे रखा गया है। अब कहा जा रहा है कि इस मुर्गे को कोर्ट में पेश किया जाएगा।