Weight Loss Tips: वजन नियंत्रित करती है तोरई, जानें इसके और भी फायदे

|

Published: 03 Sep 2021, 11:23 PM IST

Weight Loss Tips: पोषक तत्त्वों से भरपूर तोरई गर्मियों में खाने से कई बीमारियों में लाभ मिलता है।

Weight Loss Tips: पोषक तत्त्वों से भरपूर तोरई गर्मियों में खाने से कई बीमारियों में लाभ मिलता है।

इसमें विटामिन सी, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और फाइबर होता है। बी-कॉम्प्लेक्स व फोलिक एसिड गर्भवती के लिए फायदेमंद है। इसमें कैलोरी कम होती है और वजन नियंत्रित करने में मदद करती है।
तोरई में मौजूद मैग्नीज हृदय और हाई बीपी संबंधी बीमारियों में लाभदायक है। इसके प्रयोग से गैस और पाचन संबंधी समस्या में आराम मिलता है।
इसमें विटामिन ए होता है जो आंखों की ज्योति बढ़ाने में भी कारगर है।

Read More: ब्रेन को बूस्ट ये करेंगे हैल्दी फूड, नियमित सेवन करने से तुरंत दिखने लगेगा असर

भरवां तोरई है पोषण से भरपूर
तोरई कई लोगों को खाने में पसंद नहीं होती, लेकिन यह पौष्टिकता से भरी है। हालांकि बच्चे तोरई खाना बहुत कम पसंंद करते हैं। ऐसे में उन्हें पोषण देने के लिए आप भरवां तोरई ट्राई कर सकते हैं। यह पौष्टिक तो है ही साथ ही साथ बेहद टेस्टी भी है। यहां पढ़ें भरवां तोरई की रेसिपी -

तोरइयों को अच्छी तरह धो लें। अब इनको छील लीजिए और दोनों ओर से डन्ठल काट लीजिए। छीलने के बाद तोरइयों को इस तरह काट लीजिए कि वह दूसरी तरफ से जूड़ी रहें।

Read More: अंकुरित चने के सेवन के है कई चमत्कारिक फायदे, यहां पढ़ें

हींग को छोड़कर सारे मसाले एक प्लेट में निकाल कर मिला लीजिए। कटी हुई तोरइयों में थोड़ा थोड़ा मसाले भरते जाएं। मसाला इतना भरें कि यह मसाला सारी तोरइयों में भर जाए।

कढ़ाई में तेल डाल कर गरम करें। गरम तेल में हीग और जीरा डाल दीजिए। मसाले भरी तोरइयों को तेल में लगा दें और ५ मिनिट ढक कर पकने दीजिए। ढक्कन खोलें, तोरइयों को चिमटे की सहायता से पलटें। २ मिनिट और ढककर पकालें। अब ढक्कन खोलकर देखें कि बीच में रखी तोरई पक गयीं हैं, यदि नहीं पकी हों तो पलट कर १-२ मिनिट और पकालें। पकी हुई तोरई प्याले में निकाल कर रखें, और किनारे लगी हुई तोरइयों को बीच में कर दें। १-२ मिनिट तक पलट कर पकायें और प्याले में निकाल लीजिए।

Read More: जिम जाकर ज्वाइन करने के बाद इन बातों का रखें ख़ास ध्यान, नहीं तो घटने की बजाय बढ़ जाएगा वजन

भरवां तोरई तैयार है. गरमा गरम भरवां तोरई की सब्जी परांठे, नान और चपाती किसी के साथ परोसिये और खाइए। तोरई कई लोगों को खाने में पसंद नहीं होती, लेकिन यह पौष्टिकता से भरी है। हालांकि बच्चे तोरई खाना बहुत कम पसंंद करते हैं।