Health News: तेजी से वजन का घटना भी हैं गंभीर बीमारी का संकेत

|

Published: 28 Jul 2021, 11:44 PM IST

Health News: स्वस्थ इंसान के वजन का निर्धारण उसके भोजन, उम्र, लंबाई आदि के आधार पर किया जाता है। अक्सर कई वजहों से वजन घटता-बढ़ता रहता है। लेकिन अगर ठीक खान-पान के बावजूद और बिना कोई कोशिश किए तेजी से वजन कम हो रहा है तो मामला गंभीर हो सकता है। खासतौर पर अगर छह महीने में पांच फीसदी से ज्यादा या फिर पांच किलो तक वजन कम हो गया हो तो फिर ये किसी गंभीर बीमारी का लक्षण हो सकता है।

Health News: स्वस्थ इंसान के वजन का निर्धारण उसके भोजन, उम्र, लंबाई आदि के आधार पर किया जाता है। अक्सर कई वजहों से वजन घटता-बढ़ता रहता है। लेकिन अगर ठीक खान-पान के बावजूद और बिना कोई कोशिश किए तेजी से वजन कम हो रहा है तो मामला गंभीर हो सकता है। खासतौर पर अगर छह महीने में पांच फीसदी से ज्यादा या फिर पांच किलो तक वजन कम हो गया हो तो फिर ये किसी गंभीर बीमारी का लक्षण हो सकता है।

डायबिटीज की आशंका
अगर आपको बार-बार प्यास और भूख लगती है, शरीर भी थका-थका रहता है। पेशाब के लिए बार-बार जाना पड़ता है। तेजी से वजन भी घट रहा है तो आप डायबिटीज की समस्या से पीडि़त हो सकते हैं। इस बीमारी में ब्लड शुगर को शरीर ग्रहण नहीं कर पाता और यह शुगर पेशाब के जरिए शरीर से बाहर निकल आता है। इस क्रिया में काफी ऊर्जा खर्च होती है। जिससे वजन गिरने लग जाता है।

Read More: सात सुपर फूड जो आपकी सेहत को देंगे प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व, बीमारियां भी रहेंगी कोसों दूर

हाइपोथाइरॉयड के संकेत
कई बार हाइपोथाइरॉयड के मरीजों का वजन भी तेजी से गिरता है। थकान, सिरदर्द, बार-बार भूख लगना, ध्यान केंद्रित करने में परेशानी जैसे लक्षणों के साथ अगर तेजी से वजन भी गिर रहा हो तो ये हाइपोथाइरॉयड का लक्षण हो सकता है। हालांकि हाइपोथाइरॉयड के मरीजों में कई बार उल्टा भी होता है। यानी उनका वजन तेजी से बढ़ता है।

तनाव होना
कई बार तनाव की दशा में इंसान को भूख कम लगती है। कम खाने की वजह से शरीर को जरूरी ईंधन नहीं मिल पाता। ऐसे में शरीर में जमा फैट टूटकर ग्लूकोज में बदलता है और शरीर इसे ईंधन के रूप में इस्तेमाल करता है। इस वजह से भी वजन कम होने लग जाता है।

Read More: डाइटिंग और मेहनत के बावजूद वजन कम नहीं होने के ये हो सकते हैं कारण, यहां पढ़ें

कैंसर होना
कैंसर के एक तिहाई मामलों में खासकर ज्यादा उम्र वालों में वजन तेजी से घटता है। इसकी वजह है कि कैंसर कोशिकाएं तेजी से बढ़ती है और इसके लिए उन्हें भारी मात्रा में ऊर्जा की जरूरत होती है।

मानसिक रूप से अस्वस्थ
तेजी से वजन कम होने की वजहों में मानसिक रूप से कमजोर होना भी है। यदि कोई व्यक्ति मानसिक रूप से परेशान है या फिर उसका इलाज चल रहा हो तो भी ऐसे व्यक्ति का वजन तेजी से बढऩे लगता है या फिर गिरने लगता है।

Read More: ऑयली स्किन से छुटकारा दिलाता है राइस स्क्रब, ऐसे करें तैयार

किसी काम का दबाव होना
कई मामलों में दबाव या प्रेशर भी वजन गिरने का कारण बनते हैं। बुरे हालात या मुश्किलों में भी इंसान कम वजन की चपेट में आ जाता है। जब हम कम खाना खाते हैं तो शरीर को संपूर्ण कैलारी व ऊर्जा नहीं मिल पाती, ऐसे में पोषक तत्वों के अभाव से हमारी प्रतिरोधात्मक क्षमता कम हो जाती है। इसके अलावा लिवर या दिल की समस्याओं के कारण भी वजन कम हो सकता है। इसलिए जब भी वजन कम हो तो इसे नजरअंदाज मत कीजिए।

Read More: कई बीमारियों का संकेत हो सकती है खांसी, ऐसे करें घरेलु उपचार

आंतों की बीमारी
कई बार पेट और आंत संबंधी बीमारियों में शरीर भोजन को पूरी तरह से ग्रहण नहीं कर पाता और जो भोजन शरीर में जाता भी है उसका प्रयोग जरूरत के मुताबिक नहीं हो पाता इसलिए तेजी से वजन घटता है।