उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता ने तोड़ा दम, अब जिले में तीन साल की बच्ची हुई दरिंदगी का शिकार, मेडिकल के लिए भेजा अस्पताल

|

Updated: 07 Dec 2019, 09:55 AM IST

- उन्नाव रेप पीड़िता ने तोड़ा दम

- इसी जिले में हुई एक और घटिया हरकत

उन्नाव. उन्नाव जिले में जैसे दुष्कर्म की बाढ़ सी आ गई है। हाल ही में इसी जिले में जिंदा जलाई गई रेप पीड़िता (Unnao Rape Case) ने दिल्ली के सफदरगंज में दम तोड़ दिया। इससे पहले 2017 में रेप का शिकार हुई पीड़िता ने भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर (Kuldeep Singh Senger) पर जबरदस्ती करने का आरोप लगाया। सेंगर को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। उन्नाव की इन दो बड़ी घटनाओं से सहमे लोगों में दहशत का माहौल है। इसी जिले में अब एक और बेटी के साथ रेप हुआ। मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।

घसीटते हुए ले गया खेत

उन्नाव के माखी में तीन वर्षीय लड़की के साथ उसके गांव के ही युवक ने दुष्कर्म किया। शौच के लिए खेत जा रही बच्ची को युवक ने रास्ते में ही पकड़ लिया और पास के सरसों के खेत में ले गया। इस बीच बच्ची की चीख सुनकर उसके चाचा ने युवक को पकड़ लिया। इसके बाद परिवार वालों ने आरोपी युवक को पुलिस के हवाले कर दिया। बच्ची के पिता की तहरीर पर पुलिस ने दुष्कर्म व पॉस्को एक्ट (POSCO) में मुकदमा दर्ज कर बच्ची को मेडिकल के लिये जिला अस्पताल भेजा। मामले में उन्नाव एसपी विक्रांत वीर ने कहा कि आरोपी को घटनास्थल से ही गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

पीड़ित बच्ची के पिता ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया कि सुबह करीब आठ बजे उसकी तीन वर्षीय बेटी शौच के पास खेतों में जा रही थी। तभी रास्ते में पड़ोसी गांव में अपने मामा के यहां रह रहे गौतम ने बच्ची को रास्ते में ही दबोच लिया और पास ही में सरसों के खेत में घसीट कर ले गया। बच्ची की चीख पुकार सुनकर उसके चाचा व अन्य ग्रामीण वहां दौड़े और आरोपी को पकड़ लिया। पिता की तहरीर पर पुलिस ने दुष्कर्म व पॉस्को एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर बच्ची को मेडिकल के जिला अस्पताल भेज दिया।

ये भी पढ़ें: अपराधियों में नहीं कानून का खौफ, कम नहीं हो रहे दरिंदगी के मामले, उन्नाव-हैदराबाद के बाद यहां भी हुआ वैसा ही मामला