उन्नाव दुष्कर्म मामला - मनमाफिक गवाही ना देने पर सीबीआई गवाह को मिली धमकी

|

Published: 23 Nov 2020, 06:57 PM IST

- जेल में बंद दुष्कर्म पीड़िता के चाचा के ड्राइवर ने सीबीआई गवाह को दी धमकी

- गवाह पहुंचा एसपी की चौखट, लगाई जान माल की सुरक्षा की गुहार

- कुलदीप सिंह सेंगर मामले से जुड़ा है गवाह

उन्नाव. पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर मामले में उस समय नया मोड़ आ गया। जब सीबीआई गवाह ने पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देकर जान माल की सुरक्षा की गुहार लगाई है। अपने शिकायती पत्र में सीबीआई गवाह ने कहा है कि विगत 18 नवंबर को दुष्कर्म पीड़िता के जेल में बंद चाचा के ड्राइवर शिवनाथ ने उसे अंजाम भुगतने की धमकी दी है। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक ने कहा कि शिकायती पत्र मिला है। जांच क्षेत्राधिकारी सफीपुर को दी गई है। जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

माखी थाना क्षेत्र का मामला

मामला माखी थाना क्षेत्र से जुड़ा है। उक्त थाना क्षेत्र के गांव सराय निवासी जितेंद्र पुत्र देवराज सिंह ने एसपी को दिए शिकायती पत्र में बताया है कि दुष्कर्म पीड़िता के चाचा के ड्राइवर शिवनाथ ने उसे धमकी देते हुए कहा कि तुमने मन मुताबिक गवाही नहीं दी। इसलिए अंजाम भुगतने को तैयार रहना। आगामी 3 दिसंबर को चाचा पेशी पर आ रहे हैं। उस दिन तुम्हें निपटा दिया जाएगा। इस संबंध में जितेंद्र बताया कि उस पर दुष्कर्म पीड़िता के पक्ष में झूठी गवाही देने के लिए दबाव बनाया जा रहा था।।लेकिन वह सच्चाई के साथ खड़ा है।

पुलिस अधीक्षक ने कहा

इस संबंध में पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी ने बताया कि अपने आप को सरकारी गवाह बताने वाले व्यक्ति जितेंद्र ने शिकायती पत्र देकर बताया है कि उसे दुष्कर्म पीड़िता के चाचा की तरफ से उसके चालक शिवनाथ ने धमकी दी है। जिसकी जांच सीओ सफीपुर को दी गई है। उन्होंने बताया कि सीबीआई गवाह को पहले से ही सुरक्षा मिली हुई है। गौरतलब है दुष्कर्म पीड़िता के चाचा दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद है। जिनके खिलाफ जनपद के विभिन्न थाना में दर्ज मुकदमा की पेशी पड़ रही है।