भाजपा हर वार्ड से तीन-तीन का पैनल तैयार करेगी तो कांग्रेस को पीसीसी गाइडलाइन का इंतजार

|

Updated: 27 Oct 2020, 10:51 AM IST

पंचायतीराज चुनाव को लेकर दोनों दलों की तैयारियां शुरू

मुकेश हिंगड़ / उदयपुर. पंचायतीराज में प्रधान से लेकर जिला प्रमुखों को चुनने के लिए चुनावी तारीखों की आगाज के साथ ही राजनीतिक सरगर्मियां शुरू हो गई है। भाजपा व कांग्रेस ने चुनावी तैयारियां शुरू कर दी है। भाजपा ने एक कदम आगे बढ़ते हुए तय कर दिया है कि हर वार्ड से तीन-तीन जनों के नाम मांगे है इसके बाद पार्टी तय करेगी तो कांग्रेस को पीसीसी की गाइडलाइन का इंतजार है उसके अनुसार ही सब कुछ तय होगा।
जिला प्रमुख से लेकर प्रधानों के चुनाव का कार्यक्रम जारी होते ही गांवों में फिर चुनावी माहौल का आगाज हो गया है। अभी ही कुछ ब्लॉकों में अलग-अलग चरणों में पंचायतों के चुनाव हुए थे। जिला परिषद की सीट का आरक्षण तो गत वर्ष दिसम्बर में जयपुर से हो गया था और तब से ही सामान्य महिला के जिला प्रमुख की कुर्सी को लेकर ऐसे दावेदारों ने अपनी तैयारी पहले से ही शुरू कर रखी थी। अभी वे अपने वार्ड से टिकट लेने की तैयारी में लगे है। वैसे तो जिला प्रमुख का नाम तो परिणाम आने के बाद जो चुनाव प्रक्रिया होगी तब ही होगी लेकिन ऐसे नेताओं ने अपनी कसर पूरी रखी है।

भाजपा की तैयारी
- प्रत्येक मंडल पर प्रभारी लगा दिए है
- जिला परिषद व पंस. के प्रत्येक वार्ड से तीन-तीन का पैनल बनेगा
- पंचायत समिति में उस इलाके विधायक, मंडल अध्यक्ष व कार्यकारिणी जाजम पर बैठेगी

कांग्रेस की तैयारी
- कांग्रेस चुनावी कार्यक्रम पर टेलीफोनिक चर्चा की
-अब देहात कांग्रेस के सब वरिष्ठ एक साथ बैठेंगे
- सबसे बड़ी बात कि टिकट को लेकर पीसीसी की गाइड लाइन का इंतजार

कांग्रेस कार्यकारिणी भंग होने से सक्रियता कम
कांग्रेस में इस समय कार्यकारिणी को भंग करने से लगातार सक्रियता कम दिखी है। प्रदेश में सभी जिला से लेकर ब्लॉक कार्यकारिणी को भंग करने के बाद यहां संगठन की बैठकेें भी नहीं हुई और न हीं नई जिम्मेदारियां किसी को दी गई है।

नेताजी बोले....

- गुलाबचंद कटारिया (विस में नेता प्रतिपक्ष) : पार्टी के प्रमुख लोग बैठकर रचना बनाएंगे। एक पंचायत समिति में दो बाहर के लोग जाए, सबके साथ चर्चा करें। मै भी स्वयं से बात करुंगा।
- रघुवीर सिंह मीणा (सीडब्ल्यूसी सदस्य) : एक-दो दिन में स्थिति साफ हो जाएगी कि किस तरह से आगामी गतिविधियां होगी। संगठन की गाइड लाइन के अनुसार काम शुरू हो जाएगा।
- भंवर सिंह पंवार (भाजपा देहात अध्यक्ष) : हमने प्रभारी बना दिए है। प्रत्येक वार्ड से तीन-तीन नाम आएंगे और उसके बाद सब बैठकर तय करेंगे। हमारी तैयारियां पहले ही शुरू कर दी थी।
- लालसिंह झाला (निवर्तमान देहात कांग्रेस अध्यक्ष) : हम सब साथ बैठकर बात करेंगे। वैसे प्रदेश कांग्रेस की गाइड लाइड लाइन आने के बाद जल्दी से पूरी प्रक्रिया के अनुसार कार्य किया जाएगा।

महिला होगी जिला प्रमुख

21 दिसम्बर 2019 को जयपुर में जिला प्रमुख की लॉटरी निकाली गई। इसमें उदयपुर की जिला प्रमुख की सीट सामान्य महिला की होगी। जिला परिषद के 43 वार्ड में से सामान्य वर्ग के वार्ड ही 7 आरिक्षत हुए है लेकिन दूसरे जो सामान्य वार्ड है उसमें भी उस वर्ग की महिला को उतार सकते है। उदयपुर नगर निगम, बडग़ांव व गिर्वा क्षेत्र में राजनीति करने वाली शहरी महिला नेताओं ने भी दावेदारी जता रखी है।

गिर्वा व बडग़ांव के वार्डों पर सबकी नजर

जिला परिषद के वार्डोँ की लॉटरी में बडग़ांव क्षेत्र के वार्ड 40 व 41 नंबर सामान्य महिला के लिए आरक्षित हुए है। जिला प्रमुख बनने वाले चेहरे अब इन वार्डों से अपना टिकट मांगेंगे क्योंकि शहरी क्षेत्र में दोनों पार्टियों में महिला नेता ज्यादा है। दूसरी तरफ गिर्वा पंचायत समिति के वार्ड 16 व 39 वार्ड ऐसे है जो सामान्य वर्ग के लिए आरक्षित हुए है, इन दोनों वार्डों से भी महिला प्रत्याशी चुनाव लड़ सकती है ऐसे में दोनों पार्टियों की महिला नेता वहां से भी टिकट लेने की कवायद् में जुट गई है। वैसे जिले में वार्ड 2, 8, 11, 13, 24, 40 व 41 नंबर वार्ड सामान्य महिला के लिए आरक्षित हुए है। साथ के साथ जो अन्य वार्ड है उसमें भी महिलाएं लड़ सकती है।

दूसरी बार सामान्य महिला
दूसरी बार सामान्य महिला के लिए जिला प्रमुख का पद आरक्षित हुआ है। इससे पहले मधु मेहता जिला प्रमुख रही।