Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah: 50 लाख में हुई जेठालाल की दुकान की डील, दूसरे व्यापारी ने लगाया अपना बोर्ड

|

Published: 26 Feb 2021, 12:42 PM IST

  • 50 लाख रुपये में बिकी जेठालाल की दुकान
  • दूसरे व्यापारी ने गड़ा इलेक्ट्रॉनिक्स का बोर्ड हटाकर लगाया अपना बोर्ड
  • जेठालाल पर टूटा दुखों का पहाड़
  • बुरे सपने में जेठालाल का हाल हुआ बेहाल

नई दिल्ली | टीवी का बेहद पॉपुलर शो तारक मेहता का उल्टा चश्मा (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah) इन दिनों लोगों को खूब चिंता में डाले हुए है। शो के सबसे पसंदीदा कलाकार जेठालाल इन दिनों बेहद परेशान चल रहे हैं। जेठालाल पर आर्थिक संकट का खतरा मंडरा रहा है और इसीलिए उन्होंने अपनी दुकान बेचने का फैसला किया है। जेठालाल ने तय किया है कि वो अपनी 12 साल पुरानी गड़ा इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान बेच देंगे और शहर छोड़कर गांव चले जाएंगे। आने वाले एपिसोड में दिखाया जाएगा कि जेठालाल अपनी दुकान के बाहर सेल का बोर्ड लगा देते हैं और एक व्यापारी से उनकी डील भी हो जाती है।

50 लाख रुपये में हुई जेठालाल की दुकान की डील

दर्शकों के लिए ये बेहद ही शॉकिंग है कि जेठालाल इस बार बड़ी मुसीबत में फंस गए हैं और वहां से बाहर निकलने का कोई रास्ता नहीं नजर आ रहा है। भारी कर्ज में डूबे होने के कारण शो में दिखाया जाता है कि जेठालाल सेल का बोर्ड लगा देते हैं। जिसके बाद उनकी एक व्यापारी से 50 लाख रुपये में डील पक्की हो जाती है। डील होने के बाद व्यापारी अपनी दुकान का बोर्ड लगाने आता है और दुकान की चाबी मांगता है। व्यापारी कहता है कि गड़ा इलेक्ट्रॉनिक्स का बोर्ड मैं हटा रहा हूं और इसकी जगह जगतराम इलेक्ट्रॉनिक्स का बोर्ड लगेगा। व्यापारी दुकानी की चाबी मांगता है तभी नट्टू काका उसे मना कर देते हैं।

चाभी को लेकर हुई झड़प के बीच खुली जेठालाल की नींद

नट्टू काका बिल्कुल भी नहीं चाहते कि उनकी दुकान बिक जाए। इसके बाद चाबी को लेकर छीना झपटी मच जाती है और तभी जेठालाल की नींद टूट जाती है। दरअसल, जेठालाल इन दिनों इतने परेशान हैं कि वो ये सब एक सपने में देखकर रहे होते हैं। लेकिन जेठालाल पर दुखों का पहाड़ ऐसा टूटा है कि उन्हें लगता है ये सब सच में भी होने वाला है।

आर्थिक संकट से कैसे निकलेेंगे जेठालाल?

तारक मेहता का उल्टा चश्मा देखने वाले दर्शकों के मन में भी ये चिंता बनी हुई है कि इस बार जेठालाल कैसे मुसीबत से निकलेंगे। क्या सच में जेठालाल को दुकान बेचनी पड़ेगी और वो गोकुलधाम सोसाइटी छोड़कर गांव जले जाएंगे। दर्शक उस एपिसोड का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं जब जेठालाल अपनी परेशानी का कुछ हल निकाल लेंगे।