लड़कियों के डांस को लेकर समाज की सोच में आया बदलाव: शक्ति मोहन

|

Updated: 31 Oct 2018, 02:40 PM IST

अब वह कोरियोग्राफर से प्रोड्यूसर भी बन गई हैं। शक्ति डांस बेस्ड एक वेब सीरीज 'ब्रेक ए लेग' को प्रोड्यूस कर रही हैं।

डांस रियलिटी शो 'डांस इंडिया डांस' का सीजन 2 जीतने के बाद शक्ति मोहन ने पीछे मुड़कर नहीं देखा। अपनी कड़ी मेहनत के बल पर वह बॉलीवुड में कोरियोग्राफर बनीं। वह बॉलीवुड की कई बड़ी एक्ट्रेसेस को कोरियोग्राफ कर चुकी हैं, जिनमें कैटरीना कैफ और दीपिका पादुकोण जैसे नाम शामिल हैं। 'धूम 3', 'राउडी राठौर', 'तीस मार खां' और 'पद्मावत' जैसी फिल्मों में कोरियोग्राफर रह चुकीं शक्ति ने डांस रियलिटी शोज भी जज किए हैं। फिलहाल वह 'डांस प्लस 4' में रेमो डिसूजा के साथ बतौर जज नजर आ रही हैं। इसके साथ ही अब वह कोरियोग्राफर से प्रोड्यूसर भी बन गई हैं। शक्ति डांस बेस्ड एक वेब सीरीज 'ब्रेक ए लेग' को प्रोड्यूस कर रही हैं। उन्होंने पत्रिका एंटरटेनमेंट के साथ खास बातचीत में अपने अनुभव शेयर किए।

बहुत चैलेंजिग रहा प्रोड्यूसर बनना:
शक्ति मोहन का कहना है कि उनके लिए यह प्रोजेक्ट प्रोड्यूस करना बहुत चैलेंजिग रहा। उन्होंने बताया,'पूरी टीम होती है लेकिन सारी चीजों को मैनेज करना होता है। फिल्म की स्टार कास्ट को फाइनल करने से लेकर शूटिंग तक हर चीज का ध्यान रखना होता है। इस प्रोजेक्ट से मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला। साथ ही उन्होंने कहा, 'अब पता चलता है कि जहां मैं आर्टिस्ट के तौर पर काम करती हूं, वहां प्रोड्यूर्स कितनी मेहनत करते हैं।'

 

डांस-कॉमेडी बेस्ड है वेब सीरीज:
शक्ति ने बताया कि उनकी वेबसीरीज 'ब्रेक ए लेग' डांस-कॉमेडी बेस्ड है। इसमें दो सेलेब्रिटी डांस क्लास पहुंचते हैं। उनके लिए अलग-अलग डांस स्टाइल सीखना बहुत चैलेंजिग होता है। दोनों एक दूसरे से कंपटीशन करते हैं और जीतने वाले को पुरस्कार मिलेगा। इस वेब सीरीज में अभिनेता अपारशक्ति खुराना और कॉमेडियन अबिश मैथ्यू लीड रोल में हैं।

 

हर एपिसोड में अलग डांस फॉर्म्स:
शक्ति ने बताया कि इस वेबसीरीज के हर एपिसोड दर्शकों को अलग-अलग तरह के कई डांस फॉर्म्स देखने को मिलेंगे। खुद शक्ति भी इस वेबसीरीज में अभिनय करती नजर आईं।

लोगों की सोच में आया बदलाव:
शक्ति का कहना है कि लड़कियों के डांस करने को लेकर और इसको प्रोफेशन के तौर पर अपनाने को लेकर लोगों की सोच में बदलाव आया है। पहले जब लड़कियां डांस को प्रोफेशन के तौर पर अपनाती थीं तो लोग उनको अच्छी नजर से नहीं देखते थे और परिवारवालों पर ताना कसते थे। अब लोगों की सोच में बदलाव आया है। अब अभिभावक खुद अपने बच्चों को सपोर्ट करते हैं और समाज भी उनको सपोर्ट कर रहा है।

Related Stories