यहां गूंजती हैं जौहर की गौरवगाथा, भीम ने एक रात में बनावाया था ये किला

|

Updated: 22 Nov 2017, 05:49 PM IST

2/9
मान्यताओं के अनुसार पाण्डवों के दूसरे भाई भीम ने इसे करीब 5000 साल पहले इस किले का निर्माण कराया था। इतिहासकारों के अनुसार इस किले का निर्माण मौर्यवंशीय राजा चित्रांगद ने सातवीं शताब्दी में करवाया था और इसे अपने नाम पर चित्रकूट के रूप में बसाया। मेवाड़ के प्राचीन सिक्कों पर एक तरफ चित्रकूट नाम अंकित मिलता है। जोकि बाद में यह चित्तौड़ कहा जाने लगा। सन् 1559 में महाराणा उदयसिंह ने मेवाड़ की राजधानी चित्तौड़ से हटाकर अरावली के मध्य पिछोला झील के पास स्थापित कर दी, जो आज उदयपुर के नाम से जाना जाता है। आइए आगे जानते हैं चित्तौड़गढ़ दुर्ग की कुछ खास बातें...