arrested : बेवफा पत्नी के वॉचमैन प्रेमी को जेल भेजा

|

Published: 24 Jan 2021, 10:59 AM IST


- ऑटो मोबाइल डीलर को आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला
- Case of forcing auto mobile dealer to commit suicide

- गूगल हेल्प लाइन का कर्मचारी बता कर सायबर ठगी

- पद्मावती मार्केट के व्यापारी से 12.46 लाख की धोखाधड़ी

सूरत. अडाजण पुलिस ने ऑटो मोबाइल डीलर पारस खन्ना को आत्महत्या के लिए मजबूर करने आरोप में उसकी पत्नी के वॉचमैन प्रेमी को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

दरअसल, खन्ना की आत्महत्या के बाद पत्नी को को गिरफ्तार कर लिया गया था लेकिन उसका प्रेमी अंकित फरार हो गया था। उसके बारे में पुख्ता सूचना मिलने पर अडाजण पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया और अदालत में पेश कर न्यायिक हिरासत में लाजपोर जेल भेज दिया।


पुलिस के मुताबिक, एलपी सवाणी रोड कलापी अपार्टमेंट निवासी पारस खन्ना को उसकी पत्नी हिना व उसके प्रेमी गौरवपथ स्तृति आइकोन निवासी वॉचमैन अंकित प्रसाद ने आत्महत्या के लिए मजबूर किया। वाहन डीलर पारस डेढ़ साल पूर्व स्तृति आईकोन में गया था। उस दौरान वॉचमैन अंकित ने हिना को प्रेम जाल में फंसा लिया। हिना और अंकित के रिश्तों के बारे में पता चलने पर पारस ने दोनों को समझाने की कोशिश की।

लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। दोनों छिप-छिप कर मिलते थे। इस बारे में पता चलने पर पारस स्तुति आईकोन का फ्लैट छोड़ कर मां के साथ कलापी अपार्टमेंट रहने आ गया। अंकित यहां भी उसकी पत्नी से चोरी छिपे मिलने आता था। एक दिन पारस ने उसे पकड़ लिया तो उसने पारस को उसकी पत्नी को भगा ले जाने और जान से मारने की धमकी दी।


सामाजिक प्रतिष्ठा की चिन्ता व हिना तथा अंकित की धमकियों के चलते परेशान होकर उसने 14 दिसम्बर को पाल आरटीओ के सामने कासा रीवेरा की ग्यारह मंजिला बिल्डिंग की छत से छलांग लगा दी। मृतक की माता, मित्रों, परिचितों से पूछताछ और उसके मोबाइल मित्र के नाम मिले मैसेज आदि से सामने आए तथ्यों के आधार पर पुलिस ने 8 जनवरी को मामला दर्ज कर हिना को गिरफ्तार किया था। लेकिन अंकित फरार हो गया था।

पद्मावती मार्केट के व्यापारी से 12.46 लाख की धोखाधड़ी

सूरत. सलाबतपुरा पुलिस ने पद्मावती मार्केट के एक व्यापारी के साथ 12.46 लाख रुपए की धोखाधडी के आरोप में उत्तरप्रदेश के एक व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक उत्तरप्रदेश के मुरादाबाद जिले के देहरिया निवासी चांदखान ने परवत पाटिया सीताराम सोसायटी निवासी भंवरदास स्वामी के साथ धोखाधडी की। चांदखान ने रिंग रोड पद्मावती मार्केट में कृष्णा टेक्सटाइल के नाम से कारोबार करने वाले भंवरदार को भरोसे में लेकर माल उधार लिया। उसके बाद पैमेंट मांगने पर अपशब्द कहे और जान से मारने की धमकी दी।



गूगल हेल्प लाइन का कर्मचारी बता कर सायबर ठगी


सूरत. सरथाणा में एक रत्नकलाकार को गूगल हेल्प लाइन का कर्मचारी बता कर 23 हजार रुपए की साइबर ठगी का मामला सामने आया है। पुलिस के मुताबिक श्यामधाम चौक निवासी पीडि़त संजय कोटिडया के मोबइल पर गत 22 दिसम्बर को किसी का कॉल आया। उसने अपनी पहचान गूगल हेल्पलाइन के कर्मचारी के रूप में देकर संजय को बताया कि आपका गैस बिल का ट्रांजेक्शन विफल हो गया था। उसके पैसे वापस आपके खाते में डालते है। फिर उसने एक एप डाउनलोड करवाई और उसका उपयोग कर संजय के एसबीआई के खाते से रुपए पार कर दिए।