SAMRPAN NIDHI ABHIYAN: सूरत में किन्नर समाज भी आया आगे

|

Updated: 15 Jan 2021, 09:07 PM IST

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष समेत सांसद-विधायकों ने भी किया निधि समर्पण

सूरत. सूर्यदेव के मकर राशि में प्रवेश के बाद शुक्रवार से श्रीरामजन्मभूमि मंदिर निधि समर्पण अभियान सूरत नगरी में युद्ध स्तर पर प्रारम्भ हो गया है। अभियान में जहां समिति के महानगर कार्यालय में भाजपा के सांसद-विधायकों समेत अन्य ने निधि समर्पित की वहीं, लिंबायत भाग कार्यालय में किन्नर समाज श्रीरामजन्मभूमि मंदिर निर्माण में सहयोगी के रूप में आगे आया।
लिंबायत भाग संयोजक गुलाबचंद मारोठिया ने बताया कि सूरत समेत देशभर में शुक्रवार से श्रीरामजन्मभूमि मंदिर निर्माण निधि समर्पण अभियान का श्रीगणेश हो गया है और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ व विश्व हिन्दू परिषद महानगर इकाई की पूर्व तैयारियों के मुताबिक महानगर के सभी सात जिलों के कार्यालय में समर्पण निधि संग्रह का दौर भी प्रारम्भ हो गया है। बड़ी राशि के संग्रह का दौर 30 जनवरी तक चलेगा और इसके पहले ही दिन लिंबायत भाग के परवत पाटिया में आईमाता सर्कल के पास स्थित कार्यालय में किन्नर समाज के सदस्य समर्पण निधि का चैक लेकर पहुंचे। इस मौके पर किन्नर पायलकुंवर व किस्तुरीकुंवर ने बताया कि यह हम सबका सद्भाग्य है कि भगवान राम का भव्य मंदिर हमारे जीवनकाल में साकार होने जा रहा है। इस दौरान आरएसएस सूरत महानगर के सहकार्यवाह गणपतसिंह परमार, लिंबायत भाग कार्यवाह रविंद्रभाई, दिनेश राजपुरोहित, ललित शर्मा, राजीव ओमर, सुभाष रावल समेत अन्य कई लोग मौजूद थे।

-ऐतिहासिक क्षण का सदियों से था इंतजार

वहीं, श्रीरामजन्मभूमि मंदिर निर्माण निधि समर्पण अभियान समिति के पार्ले पोइंट के निकट स्थित महानगर कार्यालय में शुक्रवार दोपहर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल समेत सांसद-विधायकों ने भी समर्पण निधि के चैक भेंट किए। इस मौके पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के गुजरात प्रांतकार्यवाह यशवंत चौधरी ने बताया कि प्रभु श्रीराम के देशभर में अनेक मंदिर है, लेकिन श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या में भव्य मंदिर निर्माण के ऐतिहासिक क्षणों का सदियों से सबको इंतजार था और अब श्रीराम मंदिर व राष्ट्र मंदिर दोनों का निर्माण एक साथ हो रहा है। कार्यक्रम के दौरान भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पाटिल के अलावा सांसद दर्शना जरदोष, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष जनक बगदाणा, महानगर अध्यक्ष निरंजन झांझमेरा, विधायक हर्ष संघवी, झंखना पटेल, अरविंद राणा, संगीता पाटिल, कांति बलर, पूर्णेश मोदी, मुकेश पटेल, वीडी झालावाडिय़ा, वीनू मोरडिय़ा, प्रवीण घोघारी, विवेक पटेल समेत अन्य कई पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।