सब्र टूटा तो किया प्रदर्शन

|

Published: 28 Nov 2020, 04:39 PM IST

बीते एक महीने से गंदगी और बदबू से परेशान हैं स्थानीय निवासी

सूरत. खाड़ी किनारे पसरी गंदगी और बदबू से परेशान लोगों के सब्र का बांध टूटा तो शुक्रवार को स्थानीय निवासियों ने प्रदर्शन कर अधिकारियों को ज्ञापन सौंपा।

शहर में वराछा बी जोन के पूणा विस्तार में सम्राट सोसायटी से हस्तिनापुर सोसायटी के बीच खाड़ी किनारे पसरी गंदगी के कारण बदबू का माहौल है। स्थानीय निवासी बीते एक महीने से ज्यादा वक्त से लोगों को बदबूभरे माहौल में रहने को मजबूर होना पड़ रहा है। इस मामले को लेकर स्थानीय निवासी लंबे अरसे से लगातार मनपा के जोन अधिकारियों को शिकायत देकर साफ-सफाई की मांग करते रहे हैं। उनका आरोप है कि एक ओर शहर कोरोना संक्रमण से जूझ रहा है, दूसरी ओर जगह-जगह पसरी गंदगी दूसरे संक्रामक रोगों के लिए अवसर पैदा कर रही है। बारिश के बाद जब संक्रामक रोगों को अनुकूल माहौल मिल रहा है, कोरोना से निपटना मनपा प्रशासन के लिए खासा मुश्किलभरा साबित हो सकता है।

पूरे रास्ते खाड़ी पर दोनों किनारे रह रहे लोगों ने मनपा की जोन टीम से आजिज आकर शुक्रवार को प्रदर्शन किया। उन्होंने हाथों में प्ले कार्ड ले रखे थे, जिनपर मनपा प्रशासन की लापरवाही का जिक्र था। शिक्षण समिति सदस्य सुरेश सुहागिया ने बताया कि आसपास की सोसायटियों की गंदगी भी यहीं डंप हो रही है, जिसकी साफ-सफाई को लेकर मनपा प्रशासन गंभीर नहीं है। उन्होंने कहा कि गंदगी और बदबू के बीच रहना दूभर हो रहा है। इसके लिए उन्होंने जोन के स्वास्थ्य अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि समय रहते इसका निस्तारण नहीं किया गया तो स्थानीय निवासी आंदोलन को मजबूर होंगे।