COVID-19 फिर सील होने लगे इलाके

|

Published: 28 Nov 2020, 05:05 PM IST

संक्रमण मिलने पर सील की खांगड शेरी, लोगों से वसूला जुर्माना

सूरत. दीपावली बाद कोरोना की दूसरी लहर को लेकर सूरत मनपा प्रशासन सतर्क हो गया है। संक्रमण मिलते ही एक बार फिर इलाकों को सील करना शुरू कर दिया है। मनपा टीम ने शुक्रवार को खांगड शेरी को सील किया। अधिकारियों ने बगैर मास्क पहने घरों से निकले लोगों से जुर्माना वसूल किया और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की हिदायत दी।

दीपावली से पहले काबू में आता कोरोना संक्रमण त्योहार के बाद फिर बेकाबू होने लगा है। देश में दिल्ली के बाद सूरत समेत कई अन्य शहरों में संक्रमितों का आंकड़ा रोजाना बढऩे से स्थितियां लगातार विकट हो रही हैं। इसे संक्रमण की दूसरी लहर कहा जा रहा है। दुनिया के दूसरे देशों में दूसरी लहर और ज्यादा आक्रामक तरीके से सामने आई है, जिसे देखते हुए सूरत समेत देशभर में अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है। सूरत में भी मनपा प्रशासन संक्रमण को लेकर सजग हुआ है और संक्रमण पर काबू पाने के लिए नए सिरे से सख्ती बरतना शुरू किया है।

कोरोना के शुरुआती दिनों में लॉकडाउन के बाद जब अनलॉक का सिलसिला शुरू हुआ था, मनपा प्रशासन ने सोसायटियों और गली-मोहल्लों व अपार्टमेंट्स में नए संक्रमित सामने आने पर उन्हें सील करने की कवायद शुरू की थी। इसका असर यह हुआ था कि इन प्रभावित इलाकों में संक्रमण के प्रसार को बाधित करने में सफलता मिली थी। मनपा प्रशासन ने यह सिलसिला एक बार फिर शुरू कर दिया है। शुक्रवार को सलाबतपुरा की खांगड शेरी में एक साथ कई संक्रमित मिलने पर मनपा टीम ने पूरे इलाके को सील कर आवाजाही बाधित कर दी। अधिकारियों ने साफ किया कि जहां भी संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ता दिखेगा, उन सोसायटियों व गली-मोहल्लों और अपार्टमेंट्स को सील किया जाएगा।

इसके साथ ही शहर में जगह-जगह संक्रमण के प्रति जागरूक करने के लिए पोस्टर-बैनर लगाए हैं। संक्रमण पर काबू पाने के लिए मनपा प्रशासन ने सख्ती बरतना फिर शुरू कर दिया है। बगैर मास्क पहने घरों से निकले लोगों से जुर्माना वसूलने के साथ ही टीम ने उन्हें एहतियात बरतने की हिदायत दी। अधिकारियों ने दुकानदारों व शॉपिंग सेंटरों में सोशल डिस्टेंसिंग बिगडऩे पर कार्रवाई की चेतावनी दी।

हीरा कारोबारियों से मिले अधिकारी

मनपा आयुक्त व पुलिस आयुक्त ने शुक्रवार को हीरा कारोबारियों के साथ बैठक कर संक्रमण की मौजूदा स्थिति पर चर्चा की। उन्होंने कोरोना संक्रमण की बिगड़ती स्थिति से निपटने के लिए सहयोग मांगा। दोनों आयुक्तों ने साफ किया कि हीरा कारखानों और बाजार में पहले से तय एसओपी पर अमल सुनिश्चित किया जाए। साथ ही साफ किया कि अमल में कोताही बरती गई तो प्रशासन को सख्त कदम उठाने होंगे।