बारडोली शुगर फेक्टरी के चुनाव मे 51.41 फीसदी मतदान

|

Published: 28 Nov 2020, 07:29 PM IST

वर्तमान प्रमुख रमण पटेल सहकार पैनल और मुकेश पटेल की किसान के बीच कडा मुकाबला

बारडोली. श्री खांड उद्योग सहकारी मंडली ली (बारडोली शुगर फैक्टरी) की व्यवस्थापक समिति का चुनाव शनिवार को सम्पन्न हुआ। 51.41 फीसदी मतदाताओं ने 13 सीटों के लिए मतदान किया। मतदान प्रक्रिया शांतिपूर्ण माहौल में सम्पन्न हुई।

एशिया की सबसे बड़ी माने जाने वाली बारडोली शुगर फैक्टरी की व्यवस्थापक समिति चुनाव में वर्तमान प्रमुख रमण पटेल सहकार पैनल और मुकेश पटेल की किसान के बीच कडा मुकाबला है। कुल 15 सीटों में अनुसूचित जाती-जनजाति के लिए आरक्षित एक सीट पर राज्य के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ईश्वर परमार और बिन उत्पादक मंडली प्रतिनिधि की बैठक पर सहकार पैनल के अनिल पटेल निर्विरोध चुने गए थे। शेष 13 सीटों के लिए तीन मतदान केन्द्रों पर शनिवार को मत डाले गए। कुल 4619 मतदाताओं में से 2375 मतदाताओ ने अपने मताधिकार का उपयोग किया। इस बार जोन पद्धति की जगह जनरल चुनाव हो रहे हैं। इसके कारण एक मतदाता ने सभी 13 सीटों के उम्मीदवारों को मत दिया। दोनों पैनल के समर्थक भी मतदान केन्द्रों पर देखे गए।

मतगणना बाद में

शुगर फैक्टरियों के चुनाव को लेकर मामला हाईकोर्ट में पेंडिंग है। इस कारण सभी शुगर मिलों के लिए हुए मतों की गणना रुकी हुई है। बारडोली शुगर फैक्टरी की मतगणना पर भी हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है। जबतक हाईकोर्ट का फैसला नहीं आता, मतों की गिनती नहीं होगी।

गायब रहे एनआरआइ मतदाता

बारडोली शुगर मिल के चुनाव में एनआरआई मतदाताओं का काफी प्रभाव रहा है। करीब 50 फीसदी मतदाता एनआरआई हैं। कोरोना महामारी के कारण कई मतदाता मत देने के लिए नहीं आ सके। इस बार करीब 15 एनआरआइ ही मतदान के लिए बारडोली पहुंचे। अमरीका से आए एक एनआरआई ने बताया कि वे मतदान के लिए ही अमरीका से आए हैं।