इलाके में 22 नए कोरोना रोगी आए सामने

|

Published: 23 Aug 2020, 09:57 PM IST

इलाके में कोरोना लगातार प्रहार किए जा रहा है। संपर्कों के जरिए सामने आने वाले रोगियों की संख्या रुकने का नाम नहीं ले रही। रविवार शाम पंाच बजे तक सामने आए 22 रोगियों में से 17 पूर्व के रोगियों के संपर्क में आने के कारण संक्रमित हुए वहीं पांच में संक्रमण के स्रोत का पता ही नहीं लग पाया।

-इलाके में रविवार को बाईस रोगी आए सामने, कुल रोगियों का आंकड़ा पहुंचा 623 तक
-पांच रोगियों में संक्रमण के स्रोत का नहीं लगा पता
श्रीगंगानगर. इलाके में कोरोना लगातार प्रहार किए जा रहा है। संपर्कों के जरिए सामने आने वाले रोगियों की संख्या रुकने का नाम नहीं ले रही। रविवार शाम पंाच बजे तक सामने आए 22 रोगियों में से 17 पूर्व के रोगियों के संपर्क में आने के कारण संक्रमित हुए वहीं पांच में संक्रमण के स्रोत का पता ही नहीं लग पाया। पूर्व के रोगियों के संपर्क में आने वाले रोगियों में कुंज विहार में दो ऐसे रोगी भी मिले जो पंजाब में पूर्व के रोगियों के संपर्क में आए थे। इलाके में इन दिनों मिलने वाले रोगियों में से अधिकांश संपर्क के कारण ही संक्रमित हो रहे हैं। जिला प्रशासन के दो उच्च अधिकारियों सहित कई राजकीय और निजी कर्मचारी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं वहीं चिकित्सक और पुलिसकर्मी भी कोरोना से संक्रमित हुए हैं।

ऐसे आए कोरोना की चपेट में
जिले में रविवार को जो 22 रोगी सामने आए, उनमें सत्रह ऐसे हैं जो पूर्व के रोगियों के संपर्क में रहे थे। इनमें चार कोरोना रोगी वैशाली नगर, विवेकानंद कॉलोनी, ब्रह्म कॉलोनी और रायसिंहनगर के वार्ड दो के निवासी हैं। ये चारों रोगी जिला परिवहन अधिकारी कार्यालय के कर्मचारी हैं और पूर्व के रोगी के संपर्क में रहे हैं। इसके अलावा पुरानी आबादी में महिला पार्क के पास दो, पुरानी आबादी के ही वार्ड 21 में दो, न्यू अग्रसेन नगर में एक, बापू नगर में एक, कुंजविहार में दो, श्रीकरणपुर के वार्ड सोलह में चार तथा वार्ड 11 में एक रोगी मिला है। इन सभी रोगियों का पूर्व के रोगियों से संपर्क रहा है। वहीं
बीरबल चौक गली संख्या छह के मोची मोहल्ला में एक, इसी इलाके में दो अन्य, सादुलशहर के वार्ड 15 में एक तथा श्रीकरणपुर के बुर्जवाला में मिले एक रोगी में संक्रमण के स्रोत का पता नहीं लग पाया है।