पाइप लाइन के विरोध में उतरी महिलाएं

|

Published: 08 Jun 2020, 10:22 PM IST

- आधा-पौन घंटे तक रहा रेनवाल रोड जाम
- मानव शृंखला बनाकर डटीं रहीं महिलाएं

 

चौमूं. शहर में धारा 144 लागू होने के बावजूद दो दर्जन महिलाओं ने दूल्हे सिंह की ढाणी के लिए बिछाई गई दस इंच मोटी पाइप लाइन के विरोध में सोमवार दोपहर रेनवाल रोड पर पीपाडी विद्युत कार्यालय के सामने मानव शृंखला बनाकर जाम लगा दिय। सूचना पर पुलिस पहुंची और आधा घंटे तक जाम खुलवाने के जतन किए गए, लेकिन महिलाएं नहीं मानीं। महिला पुलिसकर्मियों के आने के बाद पुलिस ने जाम खुलवाया। पुलिस ने मौके पर जलदाय विभाग की जेईएन को बुलाकर समस्या का समाधान करवाया। जानकारी के अनुसार रेनवाल रोड स्थित वार्ड 8 की विभिन्न कॉलोनी व मोहल्लों की आक्रोशित महिलाओं ने पीपाडी विद्युत कार्यालय के सामने रेनवाल रोड पर मानव श्रृंखला बनाकर जाम लगा दिया। इससे चौमूं से रेनवाल मार्ग पर दोनों ओर करीब आधा-पौन किलोमीटर जाम लग गया।
महिलाओं का आरोप था कि नगरपालिका के नेता प्रतिपक्ष शैलेन्द्र चौधरी ने स्वयं के वार्ड 7 की दूल्हे ङ्क्षसह की ढाणी में सुचारू पेयजल के लिए अलग से दस इंच मोटी पाइप लाइन बिछवा ली है। पाइप लाइन का मिलान करने के बाद इसे चालू करने पर विद्युत कार्यालय के सामने पाइप लाइन टूटी तो इसका पता लगा। महिलाओं ने बताया कि इस लाइन के चालू होने से वार्ड ८ समेत आस-पास के वार्डों के लोगों के लिए पेयजल समस्या हो जाएगी। तीन-चार दिन से उनके घरों में पानी नहीं आ रहा है। वार्ड ८ में कोरोना संक्रमित मिलने के बाद टैंकर चालक भी पानी लाने को तैयार नहीं हैं।

पुलिस की नहीं मानी

महिलाओं के प्रदर्शन की सूचना पर पुलिस पहुंची। उप निरीक्षक रामशरण व अन्य पुलिसकर्मियों ने उनसे समझाइश की, लेकिन महिलाओं की मांग थी कि अधिकारियों को मौके पर बुलाएं। इस दौरान लम्बा जाम लग गया। देर तक जाम नहीं खुलने की स्थिति में थाने से महिला पुलिसकर्मियों को बुलाया गया। इसके बाद पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए महिलाओं को सड़क से हटाया और रोड खुलवाया। इसी दौरान कार्यवाहक थानाधिकारी बेगाराम भी मौके पर पहुंचे और लोगों को खदेड़ा। बाद में जलदाय विभाग की जेईएन को बुलाया गया, जेईएन के आश्वासन पर महिलाएं शांत हो गईं।


कोरोना को भूल गए

जाम के दौरान मौके पर बड़ी संख्या में लोगों के जमा होने एवं विरोध प्रदर्शन के चलते कहीं भी ये नहीं लगा कि शहर में धारा 144लागू है। कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए एडवायजारी के तहत सोशल डिस्टेंस व मास्क जरूरी है।