सादगी व अकीदत से मनाया ईदुलअज्हा, ईदगाह में सात लोगों ने की ईद की नमाज अदा

|

Published: 01 Aug 2020, 02:15 PM IST


धार्मिक मान्यतानुसार घरों में कुर्बानी की रस्म अदायगी, सोशल मीडिया पर दी एक दूसरे को बधाई

जोधपुर. पैगम्बर हजरत इब्राहिम अलैह सलाम के सर्वोच्च बलिदान एवं मजहबे इस्लाम के पांचवे रूक्न की याद में मनाए जाने वाला पर्व ईदुलअज्हा (बकराईद ) शनिवार को अकीदत व सादगीपूर्ण ढंग से मनाया गया। जालोरीगेट स्थित बड़ी ईदगाह मस्जिद में सरकार व जिला प्रशासन की गाइडलाइन की पालना करते हुए कुल सात लोगों ने ईद की नमाज अदा की। शहर खतीब काजी मोहम्मद तय्यब अंसारी की मौजूदगी में ईदुल अज्हा की नमाज कारी मोहम्मद सद्दाम ने अदा करवाई। इस मौके समाजसेवी इकबाल खान बैण्डबॉक्स, मोहम्मद अहसान, मुन्ना दरबार, साकिर अली व तसलीम अब्बासी मौजूद रहे। ईद की नमाज के बाद देश अमन चैन, खुशहाली, सौहाद्र्र, भाईचारगी और वैश्विक महामारी कोरोना का समूचे विश्व से खात्में की दुआएं मांगी गई।

मुसाफा नहीं दूर से ही मुबारकबाद
घरों में ईद की नमाज के बाद मुस्लिम समुदाय के लोगों ने एक दूसरे से मुसाफा करने की जगह सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए एक दूसरे को मुबारकबाद दी । सोशल मीडिया पर भी दिन भर मुबारकबाद का सिलसिला चलता रहा। ईद की नमाज के बाद कब्रिस्तानों में जाकर दिवंगत परिजनों को अकीदत के फूल पेश करने की परम्परा भी इस बार कोरोना संक्रमण के कारण अदा नहीं की गई। धार्मिक मान्यतानुसार घरों में ही कुर्बानी की रस्म अदायगी की गई।

मुफ्ती ए आजम राजस्थान ने जताया आभार
ईदुल अज्हा के मौके पर शहर खतीब काजी मोहम्मद तैयब व मौलाना मोहम्मद सद्दाम ने शहरवासियों को ईद की मुबारकबाद दी। प्रवक्ता शौकत अली लोहिया से बताया कि अध्यात्मिक इस्लामी संस्थान दारुल उलूम इस्हाकिया के मुफ्ती-ए- आजम राजस्थान शेर मोहम्मद रिजवी ईदगाह पहुंचे और जिला प्रशासन अधिकारियों के साथ ईदगाह के लोगों का प्रशासन की गाइडलाइन पालना करने पर शुक्रिया अदा किया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से ईदुल अज्हा पर मुस्लिम समुदाय के लोगों को भेजे गए बधाई संदेश को इकबाल खान बैण्डबॉक्स की ओर से पढ़कर सुनाया गया।