SURVEY : चीन मुद्दे पर 73 फीसदी लोगों को मोदी पर भरोसा

|

Updated: 23 Jun 2020, 10:32 PM IST

-एक सर्वे के मुताबिक 14.4 फीसदी ने राहुल गांधी पर जताया भरोसा
-68 फीसदी ने कहा, चीनी वस्तुओं का बहिष्कार करेंगे

नई दिल्ली. चीन के साथ सीमा पर जारी तनाव के बीच देश के ज्यादातर लोग मानते हैं चीन, पाकिस्तान से बड़ी समस्या है। सी-वोटर के एक सर्वे के मुताबिक 68 फीसदी भारतीयों का कहना है कि चीन देश की सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा है, जबकि 32 का कहना है कि ऐसा नहीं है।

39 फीसदी ने कहा, मोदी सरकार ने कठोर कदम उठाया
एजेंसी ने भारतीय नागरिकों से सवाल किया कि क्या उन्हें लगता है कि भारत सरकार ने चीन को जवाब देने के लिए ठोस कदम उठाए हैं। इस पर 39 प्रतिशत से अधिक ने कहा कि हां, मोदी सरकार ने गलवान घाटी हमले के लिए चीन के खिलाफ कठोर कदम उठाया। जबकि 60त्न का मानना है कि 20 सैनिकों की शहादत का बदला लेना बाकी है।

73.6 फीसदी को मोदी पर भरोसा, 16.7 फीसदी को नहीं
वहीं 73.6 प्रतिशत लोगों ने कहा कि हां, उन्हें चीन के धोखे के बाद भी मोदी सरकार के उठाए कदमों की वजह से विपक्षी दलों से ज्यादा मोदी सरकार पर भरोसा है। जबकि 16.7 प्रतिशत भारतीयों ने कहा कि उन्हें मोदी पर भरोसा नहीं है। 9.6 प्रतिशत को न सरकार और न ही विपक्ष पर भरोसा है।

61 फीसदी ने कहा, राहुल गांधी पर विश्वास नहीं
पीएम मोदी और राहुल गांधी की तुलना में भारतीय नागरिकों ने प्रधानमंत्री मोदी पर ज्यादा भरोसा जताया। पोल के अनुसार 61त्न लोगों का कहना है कि उन्हें राहुल गांधी पर भरोसा नहीं है। वह सरकार पर हमला कर सीमाओं को कमजोर कर रहे हैं। 72.6 प्रतिशत ने कहा कि वे राष्ट्रीय सुरक्षा पर पीएम मोदी पर भरोसा करते हैं जबकि 14.4 प्रतिशत ने कहा कि उन्हें राहुल गांधी पर विश्वास है। सर्वेक्षण में शामिल 68त्न लोगों का मानना है कि भारत के लोग चीनी उत्पादों का बहिष्कार करेंगे, जबकि 31 प्रतिशत को लगता है कि लोग चीन से सामान खरीदना जारी रखेंगे, भले ही कुछ भी हो।