पिता-पुत्र ने किया महिला से सामूहिक दुष्कर्म, सुबूत मिटाने को जिंदा जला दिया

|

Published: 27 Feb 2021, 04:02 PM IST

सीतापुर में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला को गैंगरेप के बाद जिंदा जला दिया गया है, जिससे पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क.

सीतापुर. सीतापुर में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला को गैंगरेप (Gangrape) के बाद जिंदा जला दिया गया है, जिससे पुलिस (UP Police) विभाग में हड़कंप मच गया है। गुरुवार शाम को एक मानसिक रूप से कमजोर (Mentally Ill) महिला का दो लोगों ने खेत में ले जाकर गैंगरेप कर दिया। यही नहीं, आरोप है कि सुबूत मिटाने के लिए दरिंदों ने उसे आग के हवाले भी कर दिया और मौके से फरार हो गए। महिला जिला अस्पताल में भर्ती है, जहां उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। पुलिस ने मामले में आरोपी बाप-बेटे को हिरासत में ले लिया है।

ये भी पढ़ें- अयोध्या एयरपोर्ट के लिए केंद्र ने दिए 250 करोड़, सीएम योगी ने जताया पीएम मोदी का आभार

यह है मामला-
पीड़ित महिला सीतापुर के संदना थाना क्षेत्र के कुर्सी हरौरा की रहने वाली है और मानसिक रूप से बीमार है। गुरुवार शाम को वह अपने गांव से घूमती हुई सड़क पर आ गई। जहां बदनीयत किस्म का नैमिषारण्य कोतवाली क्षेत्र के श्रीनगर गांव निवासी रामकिशोर महिला को अपने साथ ठेले पर बैठाकर घर ले गया। वहां खेत में अपने पुत्र के साथ उसने महिला का गैंगरेप किया। बाद में उसे जला दिया। शुक्रवार सुबह पीड़ित महिला गंभीर अवस्था में लोगों को मिली, तो पूरे इलाके में हड़कंप मच गया। पीड़िता की हालत गंभीर देख ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी और उसे स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया, जहां से उसे जिला अस्पताल रिफर कर दिया। बताया जा रहा है कि पीड़िता 30 फीसदी तक जल चुकी है। बताया जा रहा है कि महिला के पैर व गुप्तांग बुरी तरह से झुलस गए हैं। सीएचसी में तैनात डॉक्टर डीपी भारती ने बताया कि महिला 30 प्रतिशत जली हुई है वह अपने साथ रेप होने की भी बात कह रही है।

ये भी पढ़ें- भारतीय संस्कृति की रक्षा के लिए VHP चलाएगा जागरूकता अभियान, गाय, गंगा और गांव बचाने का लिया संकल्प

आरोपी हिरासत में-
मामले की जानकारी होते ही पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है। सीतापुर एएसपी एनपी सिंह सहित भारी पुलिस बल स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे, जहां पुलिस ने महिला के बयानों के आधार पर आरोपी पिता-पुत्र को हिरासत में ले लिया है और उनसे पूछताथ कर मामले की जांच शुरू कर दी है। एसपी आरपी सिंह का कहना है कि मामले में महिला का मेडिकल कराया जा रहा है और वह मानसिक रूप से बीमार भी लग रही है।