मजदूरी कर शुरू किया कारोबार, घर में रहकर लाखों का हुआ टर्नओवर

|

Published: 26 Sep 2021, 03:19 PM IST

आत्मनिर्भर बनने के लिए सुनीता ने पहले मजदूरी कर दो पैसे जुटाए, लेकिन आज लाखों रुपए का टर्न ओवर होने के कारण उनके पति भी इसी काम में जुट गए हैं।

सीहोर. कहते हैं सच्ची लगन और लगातार मेहनत करने से सफलता निश्चित ही आपके कदम चूमती है। ऐसा ही कुछ कर दिखाया सीहोर की जिले की इस महिला ने, उनके पास पैसे नहीं थे, तो मजदूरी कर पैसा जमा करना शुरू किया, फिर छोटे से शुरूआत कर आज लाखों रुपए का टर्नओवर तक पहुंच गई हैं।

व्यंजन बनाने का शुरू किया काम

सीहोर के गंज क्षेत्र में रहने वाली महिला सुनीता गुप्ता ने युवा पीढ़ी के लिए एक मिसाल पेश की है, उनके पास काम शुरू करने के लिए पैसा नहीं था, इस कारण उन्होंने पहले मजदूरी कर पैसे एकत्रित किए, फिर सामग्री खरीदकर व्यंजन बनाने शुरू कर दिए, शुरूआत में मेहनत बहुत लगी, लेकिन अब उनके व्यंजन की मांग मध्यप्रदेश सहित उत्तरप्रदेश से भी होने लगी है। वहीं उनकी कमाई का टर्नओवर भी लाखों में पहुंच गया है।

पत्नी के साथ जुटे पति, नहीं जाते हैं अब दूसरी जगह करने काम

सुनीता की आर्थिक स्थिति कमजोर थी, लेकिन उन्होंने आत्मनिर्भर बनने की ठान ली थी, जिसका परिणाम है कि आज हर माह 25 हजार रुपए से अधिक की कमाई कर लेती है, जब उनका कामकाज अच्छा चलने लगा तो उनके पति भी दूसरी जगह काम करने नहीं जाते हैं, वह सुनीता का ही हाथ बटाते हैं। वे सामग्री तैयार करने से लेकर पैकिंग सामग्री सप्लाय करने में उनकी मदद करते हैं। सुनीता मीठी खुरमी, नमक पारा, काजू, पापड़, मूंग व उड़द की बड़ी आदि बनाती हैं। जिसके आर्डर दूर दराज से आने लगे हैं। सुनीता के घर में पांच सदस्य है।