यहां डर ऐसा की लोग करते हैं प्रार्थना, हे ईश्वर सही सलामत पहुंचा देना घर

|

Published: 20 Sep 2021, 10:46 AM IST

17 गांव के लोगों में है डर फिर भी जिम्मेदारों ने फेरा मुंह

सड़क

रमगड़ा. हे भगवान आपसे यही विनती है कि जिस तरह से घर से निकले हैं वैसे ही सही सलामत वापस पहुंचा देना। यह शब्द उन लोगों के हैं जो बुदनी-संदलपुर मार्ग से रोजाना सफर करते हैं। यह बदहाल सड़क लोगों का हर दिन इम्तिहाल लेकर हादसे का शिकार बना रही है। फिर भी अफ सर अनदेखी कर रहे हैं।

क्षेत्र के ग्रामीण व शहरी क्षेत्र से निकले बुदनी-संदलपुर 22 नंबर हाइवे के रखरखाव का जिम्मा जिस कंपनी को दिया वह जमकर लापरवाही दिखा रही है। इसी का नतीजा है कि सड़क कई जगह उखड़कर गड्ढों में तब्दील हो गई है। इससे लोगों को आवाजाही करने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वही दो पहिया वाहन चालकों को हादसे का शिकार होकर अस्पताल का मुंह देखना पड़ता है, जबकि बड़े वाहनों में टूटफूट होने से लोगों को नुकसान भी उठाना पड़ रहा है। सतराना गांव के बीच से निकले इस रोड की सबसे बुरी स्थिति है।

डंपर ने बिगाड़ी सूरत
बताया जाता है कि मार्ग से रोजाना क्षेत्र के 17 गांव के लोग अपने गंतव्य तक पहुंचते हैं। इस मार्ग से निकलते रेत के ओवरलोड डंपरों ने सबसे ज्यादा सड़क की दशा बिगाडऩे में अपनी भूमिका निभाई है। लोगों का कहना है कि जिम्मेदारों ने जल्द ही सड़क की मरम्मत नहीं की तो कभी भी बड़ी दुर्घटना होने से इनकार नहीं किया जा सकता है। उल्लेखनीय है कि इस तरह से कई जगह सड़क की स्थिति बेकार हो गई है जिनकी रिपेयरिंग नहीं की जा रही है।