कांग्रेस का हल्लाबोल, प्रदर्शन के दौरान पूर्व मंत्री के साथ भी धक्का-मुक्की

|

Published: 23 Sep 2021, 07:59 PM IST

कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस में हुई झूमाझटकी...पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा भी धक्का मुक्की के शिकार..

सीहोर/आष्टा. प्रदेश सरकार की नीतियों के खिलाफ गुरुवार को पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा के नेतृत्व में आयोजित हल्लाबोल कार्यक्रम में तहसील कार्यालय ज्ञापन देने जा रहे स्थानीय कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को प्रशासन ने तहसील कार्यालय का गेट बंदकर बाहर ही रोक दिया। जिससे आक्रोशित कांग्रेसी कार्यकर्ता नाराज हो गए और काफी देर तक गेट के बाहर ही नारेबाजी करते हुए जमकर हंगामा किया । इस दौरान कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की पुलिस से जमकर झूमा झटकी और धक्कामुक्की हुई जिसका पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा भी शिकार हुए।

कांग्रेस का हल्लाबोल
इससे पूर्व बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ आयोजित हल्लाबोल आंदोलन में पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा ने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं और नेताओं को एक निजी गार्डन में सम्बोधित करते हुए भाजपा की केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा। इसके बाद पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता कॉलोनी चौराहे से तहसील कार्यालय पैदल मार्च करते हुए ज्ञापन सौपने तहसील कार्यालय पहुंचे। जहां स्थानीय प्रशासन ने तहसील कार्यालय का गेट बंद कर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को बाहर ही रोक दिया।

 

ये भी पढ़ें- महापंचायत से पहले जयस की गुपचुप बैठक, 2 हजार से ज्यादा आदिवासी जुटे

 

अंदर जाने से रोके जाने पर कांग्रेसी कार्यकर्ता बिफर गए और गेट पर ही जमकर हंगामा करते हुए गेट पर चढ़ गए लेकिन पुलिस ने कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को बल पूर्वक नीचे उतार दिया । इस दौरान पुलिसकर्मियों और कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में जमकर धक्का मुक्की हुई। धक्कामुक्की के बीच कांग्रेस कार्यकर्ताओं को समझाने के लिए पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा जैसे ही आगे आए तो उन्हें भी धक्का-मुक्की का शिकार होना पड़ा। प्रदर्शन के बाद मीडिया से बात करते हुए पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा ने केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा।

देखें वीडियो- 90 साल की दादी चलाती है कार