प्लेन में आई खराबी तो उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने वर्चुअल किया 805 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण

|

Updated: 23 Jul 2021, 08:54 PM IST

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ( Deputy Chief Minister Keshav Prasad Maurya ) प्लेन में आए ततकनीकी खराबी के कारण लखनऊ से सहारनपुर के लिए उड़ान नहीं भर सके। इसके बाद उन्हाेंने कार्यक्रम में आए लाेगाें से वर्चुअल संवाद करते हुए जनहित वाली योजनाओं का लोकार्पण किया।

 

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
सहारनपुर . प्लेन में आई तकनीकी गड़बड़ी के कारण उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ( Deputy Chief Minister Keshav Prasad Maurya ) शुक्रवार को सहारनपुर नहीं जा सके। बाद में उन्होंने वर्चुअल ही कार्यक्रम को संबोधित किया और 805 करोड़ रुपये की जनहित वाली योजनाओं का लोकार्पण किया।

यह भी पढ़ें: काशी विश्वनाथ और ज्ञानवापी मस्जिद विवाद में सुलहनामे की बड़ी पहल, मंदिर को 1700 फीट जमीन देगा मुस्लिम पक्ष

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का शुक्रवार को सहारनपुर आगमन का प्रोग्राम था। उन्हें 805 करोड़ रुपये लागत की 228 परियोजनाओं का लोकार्पण करना था। इसके लिए सर्किट हाउस में प्रोग्राम आयोजित किया गया था। यहां लगभग सभी पदाधिकारी और बड़ी संख्या में कार्यकर्ता भी पहुंचे थे। कार्यक्रम में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरा ध्यान रखा गया। कार्यक्रम शुरू होने से कुछ ही देर पहले सूचना मिली कि लखनऊ से उपमुख्यमंत्री का प्लेन टेक ऑफ नहीं कर पा रहा है तकनीकी खामी आ गई है। तकनीकी खामियों को सुधारने की कोशिश भी की गई लेकिन उप मुख्यमंत्री टेकऑफ नहीं कर सके। इसके बाद उन्होंने वर्चुअल ही कार्यक्रम को संबोधित किया और इन सभी योजनाओं का लाेकार्पण किया।

यह भी पढ़ें: दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर नहीं होगा टोल बैरियर, जानिए कैसे कटेगा टोल टैक्स

सहारनपुर भाजपा जिला अध्यक्ष महेंद्र सिंह सैनी ने बताया कि जिन योजनाओं का लोकार्पण किया गया है वह सभी जनहित वाली याेजनाएं हों। उन्हाेंने कहा कि प्रदेश सरकार सबका साथ सबका विकास की विचारधारा के साथ काम कर रही है। जिन याेजनाओं का लोकार्पण किया गया है उन सभी योजनाओं में सबका-साथ सबका विकास के अनुरूप ही काम किया जाएगा।


अफसरों ने ली राहत की सांस
उप मुख्यमंत्री के पहुंचने से पहले ही सहारनपुर के बड़गांव में एक बार फिर से दलित बनाम ठाकुर मामला गरमा रहा था। इसी बीच उपमुख्यमंत्री का सहारनपुर का प्रोग्राम आ गया। ऐसे में अफसर भी इस घटना को लेकर टेंशन में थे। इसी बीच उपमुख्यमंत्री का प्लेन ना उड़ पाने की सूचना मिलकर अफसरों ने भी राहत की सांस ली।

यह भी पढ़ें: कोरियाई कंपनियों ने बताई समस्याएं, सीएम ने किया तत्काल समाधान

यह भी पढ़ें: मेडिकल कॉलेज के बाद अब सहारनपुर विश्वविद्यालय का नाम बदला