एक्शन में सीएम योगी ताबड़तोड़ दाैरे शुरू, सहारनपुर में राताे-रात बना दी गई सड़कें

|

Updated: 07 Aug 2020, 08:51 PM IST

  • पहले दिन नाेएडा में किया काेविड अस्पताल का उद्घाटन
  • अब सहारनपुर में करेंगे काेविड की मंडलीय समीक्षा

सहारनपुर ( Saharanpur ) कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ( UP CM Yogi Adityanath ) के ताबड़तोड़ दौरे शुरू हो गए हैं। दो दिन में सीएम पश्चिमी उत्तर प्रदेश के तीन ज़िलों का दौरा करेंगे।

यह भी पढ़ें: UP में आबकारी विभाग ने चलाया विशेष अभियान, अवैध शराब मिलने पर 4 का बुरा हाल

शुक्रवार काे सीएम ( CM Yogi Adityanath) पहले बरेली पहुंचे और फिर नाेएडा ( noida ) में काेविड अस्पताल का उद्घाटन किया। अब शनिवार काे वह सहारनपुर पहुंचेंगे और यहां काेविड काे लेकर मंडलीय समीक्षा बैठक करेंगे। सात अगस्त काे लखनऊ में काेविड की बैठक करने के बाद सीएम दोपहर को बरेली पहुंचे और बरेली में निरीक्षण करने के बाद नाेएडा पहुंच गए। नाेएडा में उन्हाेंने केविड अस्पताल का उद्घाटन किया और रात काे नाेएडा में ही रुक गए।

यह भी पढ़ें: पुलिस से हुई मुठभेड़ में अनिल दुजाना व बिल्लू दुजाना गैंग का सक्रिय सदस्य बना पुलिस की गोली का शिकार

शनिवार सुबह सीएम उत्तर प्रदेश के अंतिम जिले सहारनपुर के लिए रवाना होंगे। सहारनपुर में सर्किट हाउस में जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे और उसके बाद कोविड-19 को लेकर मंडलीय समीक्षा करेंगे। मुख्यमंत्री के इन दौरों को लेकर नोएडा गाजियाबाद सहारनपुर समेत आसपास के जिलों में पिछले दाे दिनाें से तैयारियां चल रही हैं।

यह भी पढ़ें: मरीज की मौत के बाद जिला अस्पताल में हंगामा, जमकर की तोड़फोड़, महिला डॉक्टर के साथ अभद्रता

मुख्यमंत्री का सरकारी प्रोग्राम आ चुका है लेकिन इसमें किसी भी समय बदलाव हो सकता है और वह किसी भी अस्पताल का निरीक्षण भी कर सकते हैं। यही कारण है कि अफसर मुख्यमंत्री के दौरे से पहले सभी व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने में लगे हुए हैं। सहारनपुर में राताे-रात सड़के बनाई जा रही हैं और पुलिस लाइन में रंगाई पुताई का काम काम चल रहा है।

यह भी पढ़ें: शामली पहुंची दिल्ली पुलिस ने रात काे खुदवाई कब्र, कब्जे में लिया शव

अंबाला राेड स्थित मेडिकल कॉलेज के साथ-साथ जिला अस्पताल में भी व्यवस्थाओ काे दुरुस्त किया गया है। उम्मीद जताई जा रही है कि सीएम सहारनपुर में पहुंचने पर यहां जिला अस्पताल या फिर मेडिकल कॉलेज का भी निरीक्षण कर सकते हैं।