neet result 2020: नीट का परिणाम जारी, 720 में 720 अंक लाकर आकांक्षा सिंह और शोएब आफताब बने टॉपर

|

Updated: 16 Oct 2020, 11:02 PM IST

रिजल्ट के साथ एनटीए ने फाइनल आंसर की भी जारी कर दी है।

13 सितंबर को आयोजित हुई थी परीक्षा ।

शोएब ने 720 में से 720 अंक हासिल किए हैं।

NEET 2020 Result: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी NTA ने NEET 2020 का परीक्षा का परिणाम NEET Result शुक्रवार को जारी कर दिया । इस परीक्षा में दिल्ली की आकांक्षा सिंह और उड़ीसा के शोएब आफताब ने 720 में से 720 अंक लाकर टॉप किया है। आकांक्षा और शोएब ने 720 में से 720 अंक हासिल किए हैं। जिन अभ्यर्थियों ने नीट की परीक्षा दी थी, वे अब आधिकारिक वेबसाइट ntaneet.nic.in के माध्यम से अपना परिणाम देख सकते हैं। नेशलन टेस्टिंग एजेंसी ने परिणाम के साथ ही परीक्षा की फाइनल आसंर की भी जारी कर दी है।

NEET 2020 के Result में कोटा का फिर परचम, 'आफताब' की तरह चमका 'शोएब'

टॉपर बने शोएब आफताब-
ओडिशा में राउरकेला के रहने वाले शोएब आफताब ने नीट के पहले ही प्रयास में परफेक्ट 720 में 720 अंक हासिल किए हैं। शोएब अपने परिवार में पहले डॉक्टर बन रहे हैं। उनके पिता शेख मोहम्मद अब्बास व्यवसाय करते हैं और मां सुल्ताना रिजया गृहणी हैं। शोएब ने अपनी सफलता का सबसे ज्यादा श्रेय अपनी मां को दिया है। शोएब की मां उनके लिए अपना शहर छोड़कर कोटा में रहीं। शोएब ने कोटा के ही संस्थान से नीट की कोचिंग की थी। शोएब ने इसी वर्ष 12वीं में 95.8 प्रतिशत अंक प्राप्त किए थे। शोएब की केवीपीवाई में ऑल इंडिया 37वीं रैंक और 10वीं में 96.8 प्रतिशत अंक थे।

NEET SS Counselling 2020 Postponed: सुपर स्पेशियलिटी काउंसलिंग की नई तारीखों की घोषणा जल्द, पढ़ें पूरी डिटेल्स

13 सितंबर को आयोजित हुई थी परीक्षा-
नीट का रिजल्ट पहले 12 अक्टूबर को आने वाले था, लेकिन कोविड-19 से प्रभावित नीट अभ्यर्थियों को एक और मौका देने के लिए परीक्षा परिणाम 16 अक्तूबर को जारी करने का निर्णय लिया गया था। इस साल नीट की परीक्षा 13 सितंबर को आयोजित हुई थी। इस साल NEET के लिए लगभग 15.97 लाख उम्मीदवारों ने पंजीकरण किया था जिसमें से केवल 85-90 फीसदी छात्रों ने नीट की परीक्षा दी थी।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने नीट के रिजल्ट के बाद खुशी जताई है और कहा,विद्यार्थियों के करियर की प्रगति एवं बेहतर भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए इन परीक्षाओं का आयोजन बेहद जरूरी था।

गौरतलब है कि तमाम विरोध के वाबजूद भी शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने नीट का आयोजन करवाया। विपक्ष ने इसपर राजनीति भी शुरू कर दी थी लेकिन तमाम विरोधो की परवाह किए बगैर नीट का आयोजन करवाया गया।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक ने कहा, वैश्विक आपदा कोविड-19 के कारण संपूर्ण विश्व का शैक्षिक एवं अकादमिक जगत व्यापक रूप से प्रभावित हो रहा था। वर्तमान हालात में शीघ्र ही हमें इस बीमारी से निजात मिलती हुई भी दिखाई नहीं दे रही थी। ऐसे में छात्रो के बेहतर भविष्य के लिए इन परीक्षाओं का आयोजन करवाना जरुरी था निशंक ने एनटीए को परीक्षा के बेहतर संचालन को लेकर बधाई दी है।