Latest News in Hindi

BIG BREAKING मुख्यमंत्री की सभा में जा रही मुस्लिम महिलाओं के पुलिस ने उतरवाए बुरके...यहां पढे़ं पूरी खबर

By Ashish Pathak

Sep, 12 2018 05:23:52 (IST)

BIG BREAKING मुख्यमंत्री की सभा में जा रही मुस्लिम महिलाओं के पुलिस ने उतरवाए बुरके...यहां पढे़ं पूरी खबर

रतलाम। मध्यप्रदेश के रतलाम में मेडिकल कॉलेज की शुरुआत करने आए मुख्यमंत्री शिवराजङ्क्षसह चौहान की सभा में मुस्लिम महिलाओं को काले दुपट्टे व बुरके खुलवाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने ये कार्य काले रंग को विरोध का प्रतीक मानकर किया। बता दे कि पूरे राज्य में करणी सेना व सपाक्स संगठन काले झंडे हर पार्टी के नेता को दिखा रहा है। इसके चलते पुलिस ने विरोध न हो, एेसे में पहले से र्ही युवतियों के काले रंग के दुपट्टे उतरवा लिए। अब कांगे्रस सहित हर संगठन इसकी निंदा कर रहा है।

मुख्यमंत्री चौहान की सभा के काले झंडे या कपड़े नहीं दिखा पाए इसके लिए खासतौर से सतर्कता बरती गई। पुलिस ने प्रवेश द्वार पर ही इसकी सघनता से जांच की और लड़कियों के काले दुपट्टे तक उतरवा लिए। यही नहीं महिलाएं बुर्का या कुछ इसी तरह काले वस्त्र पहनकर आई तो उनसे चेंज करवाया गया। लोगों के काले शर्ट या टीशर्ट पहनकर सभा में आने पर भी प्रतिबंध जैसा ही रहा। बेरिकेड्स पर ही उन्हें रोक लिया गया गया। उनसे साफ शब्दों में कह दिया गया कि वे या तो सभा में नहीं जाएं या फिर जाएं तो कपड़े बदलकर आएं। हालांकि चैकिंग पाइंट के पास ही महिलाओं के कपड़े चेंज करने की सुविधा भी दी गई थी, इसलिए कई महिलाओं ने बुर्के उतार दिए थे।

करणी सेना के लोगों को नहीं आने दिया


करणी सेना के लोगों को सभास्थल से काफी दूर तक ही रोक लिया गया था। उन्हें सभास्थल के आसपास भी नहीं पहुंचने दिया गया। करणी सेना के सदस्य बंजली गांव में जाने वाले रास्ते से पहले ही रोक लिए गए। उधर बंजली हवाई पट्टी के आसपास की होटलों पर भी उन्हें नहीं रुकने दिया। कांगे्रस ने पुलिस की इस कार्रवाई का विरोध किया है।

एससी-एसटी एक्ट का डर दिखा


प्रदेश और देश में एससी, एसटी एक्ट के विरोध में हुए आंदोलन को लेकर राजनेता भी बोलने में अब पीछे हटने लगे हैं। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान भी मेडिकल कॉलेज के लोकार्पण कार्यक्रम में इस पर बोलने से न केवल बचे वरन उन्होंने आह्वान किया कि प्रदेश की जनता आपसी सौहार्द्र से रहे।सामाजिक समरसता बनाए रखें और किसी के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा।

 

ये भी रहे कार्यक्रम में मौजूद


कार्यक्रम में राज्य योजना आयोग उपाध्यक्ष व विधायक चेतन्य काश्यप, राज्य वित्त आयोग अध्यक्ष हिम्मत कोठारी, ग्रामीण विधायक मथुरालाल डामर, डॉ राजेन्द्र पाण्डेय, जितेन्द्र गेहलोत, संगीता चारेल, महापौर डॉ सुनीता यार्दे, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रमेश मईड़ा, राज्य कृषक आयोग अध्यक्ष ईश्वरलाल पाटीदार, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक अध्यक्ष अशोक चौटाला, कान्हसिंह चौहान, पूर्व महापौर शैलेन्द्र डागा, निगम अध्यक्ष अशोक पोरवाल, विष्णु त्रिपाठी, आशा मौर्य आदि नेता उपस्थित थे।