Latest News in Hindi

बेटे के हत्यारों की गिरफ्तारी न होने पर पिता ने मांगी इच्छा मृत्यु, रेलवे ट्रेक पर मिली थी लाश

By Akansha Singh

Sep, 12 2018 11:31:02 (IST)

गुलाब सिंह के पुत्र राजेंद्र सिंह की 11 सितंबर 2015 को हत्या कर शव को ट्रेन के पटरी पर फेंक दिया गया था।

रायबरेली. रायबरेली के बछरावां थाना के ग्राम खैरहनी निवासी गुलाब सिंह के पुत्र राजेंद्र सिंह की 11 सितंबर 2015 को हत्या कर शव को ट्रेन के पटरी पर फेंक दिया गया था। पुलिस ने मुस्तैदी दिखाते हुए हत्या को दुर्घटना के रूप में विवेचित कर अपना पल्ला झाड़ लिया लेकिन लगातार न्याय की गुहार पर एक साल बाद पुलिस ने लगभग आधा दर्जन लोगों पर हत्या का मुकदमा दर्ज तो किया लेकिन हत्या करने वालों के आगे पुलिस किसी कारण पक्ष में खड़ी दिखाई पड़ रही है। वह क्या कारण है यह भी पीड़ित पक्ष आज तक नही समझ सका है। लेकिन आजतक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी नहीं की गई।

मृतक का परिवार विगत तीन वर्षों से न्याय की तलाश में लगातार मुख्यमंत्री सहित पुलिस विभाग के सभी उच्च अधिकारियों की चौखट पर अपने परिवार सहित हाजरी लगा आया। आपको यह भी बता दें कि 2015 में बछरावां निवासी गुलाब सिंह के पुत्र की हत्या की गई थी। तीन साल पूरे हो चुके जिसको लेकर हताश पिता ने इच्छा मौत की मांग की है। पुलिस मामले में दो बार एफआर लगा चुकी है। अब सरकार व प्रशासन इस पिता को मौत देता है या न्याय।


क्या कहते हैं सिटी मजिस्ट्रेट
रायबरेली के बछरावां थाना क्षेत्र के गुलाब सिंह के पुत्र राजेंद्र सिंह के इस मामले को लेकर सिटी मजिस्ट्रेट ने चुप्पी साध ली और कुछ बोलने से मना कर दिया। वहीं एसपी सुजाता सिंह ने आश्वासन दिया कि इस मामले को सही स्तर से जांच कराई जायेगी। जो भी दोषी होगें उन पर कार्रवाई की जायेगी।

सालों से न्याय मांगते परिवार ने उठाया बड़ा कदम
रायबरेली इन सभी घटनाओं के बाद सालों से न्याय मांगते मांगते परिवार अब थक चुका है। जिसको लेकर मृतक के परिवार में न्याय व्यवस्था से थक हारकर आखिरकार महामहिम राष्ट्रपति से इच्छा मृत्यु की गुहार लगाई है। मृतक का पूरा परिवार डीएम व एसपी कार्यालय में पहुंचकर डीएम व एसपी से मुलाकात कर इच्छा मृत्यु की मांग की है। डीएम की गैरमौजूदगी में परिवार ने सिटी मजिस्ट्रेट को राष्ट्रपति के नाम इच्छा मृत्यु का ज्ञापन सौंपा।