West Bengal: ममता बनर्जी को झटका, सुवेंदु अधिकारी ने मंत्री पद से दिया इस्तीफा

|

Updated: 27 Nov 2020, 05:57 PM IST

  • पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले ममता बनर्जी को बड़ा झटका लगा
  • परिवहन मंत्री सुवेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल से इस्तीफा दिया

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव ( West Bengal Assembly Election ) से पहले ममता बनर्जी ( Mamata Banerjee ) को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, राज्य के सिंचाई और परिवहन मंत्री सुवेंदु अधिकारी ( West Bengal transport minister Suvendu Adhikari ) ने शुक्रवार को ममता बनर्जी के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है। अगले साल होने वाले चुनाव से पहले यह ममता बनर्जी के लिए बड़ा नुकसान माना जा रहा है। राजनीतिक जानकारों के अनुसार अधिकारी का पश्चिम बंगाल की राजनीति में एक बड़ा कद है। आपको बता दें कि ममता बनर्जी से खफा चल रहे सुवेंदु अधिकारी को एक दिन पहले ही हुगली रिवर ब्रिज कमिश्नर्स ( HRBC ) के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था। जिसके बाद उन्होंने अपना इस्तीफा राज्यपाल जगदीप धनखड़ को भेज दिया। वहीं, पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ( West Bengal Governor Jagdeep Dhankar ) ने ट्विटर पर जानकारी साझा करते हुए कहा कि मंत्री के रूप में अधिकारी का इस्तीफा पत्र मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भेजा गया है और इसकी एक प्रति राज्यपाल के कार्यालय को भी भेजी गई है।

Delhi-NCR से उत्तराखंड आने वालों की होगी Corona Test, पॉजिटिव को नहीं मिलेगा प्रवेश

पश्चिम बंगाल के चुनाव कुछ ही महीने दूर

राज्यपाल धनखड़ ने आगे लिखा कि आज दोपहर 1:05 बजे मंत्री के तौर पर सुवेंदु अधिकारी का इस्तीफा पत्र माननीय मुख्यमंत्री को संबोधित किया गया है। यह मुद्दा संवैधानिक दृष्टिकोण से संबोधित किया जाएगा। राज्य के परिवहन विभाग ने गुरुवार को एक परिपत्र (सकरुलर) जारी कर कहा कि अधिकारी की जगह यह जिम्मेदारी कोलकाता से सटे हुगली जिले के श्रीरामपुर से तृणमूल कांग्रेस के सांसद कल्याण बनर्जी को सौंपी गई है। राज्य सरकार के परिपत्र में लिखा गया है, हुगली रिवर ब्रिज अधिनियम, 1969 की धारा-3 की उप-धारा (3) द्वारा प्रदत्त शक्ति के साथ राज्यपाल ने माननीय सांसद कल्याण बनर्जी को HRBC का तत्काल प्रभाव से और अगले आदेश तक अध्यक्ष नियुक्त किया है। पार्टी के अंदरूनी सूत्रों ने कहा कि अधिकारी ने कुछ समय से तृणमूल सुप्रीमो के साथ दूरी बना ली थी। पश्चिम बंगाल के चुनाव कुछ ही महीने दूर हैं और ऐसे समय पर उन्होंने इस सप्ताह एक अराजनैतिक बैनर के तहत पूर्वी मिदनापुर के खेजुरी में एक विशाल रैली भी निकाली थी।

Farmer Protest: DMRC ने जारी की एडवाइजरी, कल NCR से दिल्ली की ओर का मेट्रो संचालन बंद

भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने की अटकलें तेज

हालांकि अधिकारी ने अभी तक किसी राजनीतिक दल में जाने को लेकर कोई खुलासा नहीं किया है, लेकिन उनके भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई हैं। वहीं, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि सुवेंदु अधिकारी ने मंत्री के तौर पर इस्तीफा दे दिया है, लेकिन उन्होंने तृणमूल कांग्रेस से इस्तीफा नहीं दिया है। उन्होंने अभी तक अपना राजनीतिक रुख को स्पष्ट नहीं किया है। हम हर गतिविधि पर नजर रख रहे हैं। अगर वह भाजपा में शामिल होने का फैसला करते हैं तो उनका स्वागत किया जाएगा।