चुनाव तारीखों के एलान के बाद कोलकाता में बवाल, BJP के चुनावी रथों में तोड़फोड़

|

Published: 27 Feb 2021, 08:39 AM IST

  • बंगाल में चुनाव तारीखों के एलान के बाद मचा बवाल
  • बीजेपी के चुनावी रथों में जमकर तोड़फोड़
  • बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने टीएमसी कार्यकर्ताओं पर लगाया हिंसा का आरोप

नई दिल्ली। पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान होते ही इसका सबसे ज्यादा असर पश्चिम बंगाल ( West Bengal Assembly Election ) में देखने को मिला। कोलकाता में चुनाव तारीखों के एलान के बाद पहली हिंसा की घटना भी सामने आ गई।

बीजेपी ( BJP ) के खिलाफ कुछ अज्ञात लोगों का गुस्सा सामने आया। कडापारा इलाके में बीती रात करीब 11 बजे कुछ लोग पहुंचे और परिवर्तन रथों पर हमला बोल दिया। हालांकि बीजेपी का आरोप है कि टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने हमला करके उनकी गाड़ियों और उसमें लगी एलईडी टीवी में जबरदस्त तोड़फोड़ की है।

कांग्रेस नेता शशि थरूर की तरह अंग्रेजी बोलना सीख रहा पाकिस्तान शख्स, वीडियो बनाकर बताई अपनी तैयारी, देखर आप भी नहीं रोक पाएंगे हंसी

पश्चिम बंगाल में चुनावी रणभेरी बजने के साथ ही टीएमसी और बीजेपी के बीच घमासान भी तेज हो गया है। बीती रात हुई हिंसक घटना ने इन दोनों दलों के बीच की टक्कर को फिर हवा दे दी।

बंगाल बीजेपी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने घटना का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, "आज ही चुनाव आयोग ने बंगाल चुनाव तिथि की घोषणा की और तृणमूल कांग्रेस के गुंडो ने बिना डर के रात 11 बजे बीजेपी के कडापारा (कोलकाता) गोडाउन्न में घुसकर LED गाड़ियां फोड़ी. LED भी खोलकर ले गए। शायद गुंडो ने चुनाव आयोग को चुनोती दी है।"

नरेंद्र मोदी के नाम स्टेडिमय को लेकर बीजेपी में ही उठने लगीं आवाजें, अब इस सांसद ने कसा तंज

आपको बता दें कि चुनाव आयोग ने शुक्रवार को ही राज्य में 8 चरणों में चुनाव तारीखों का एलान किया है। चुनाव आयोग के 8 चरणों में चुनाव कराने के पीछे उद्देश्य हिंसक घटनाकों पर लगाम लगाना था, लेकिन बीजेपी और टीएमसी के बीच जारी रस्साकशी में बार-बार ऐसी घटनाएं सामने आ रही हैं।


बंगाल में इन दिनों होगा मतदान
पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में मतदान होना है। इसमें पहले चरण के तहत पांच जिलों की 30 विधानसभा सीटों पर 27 मार्च को, दूसरे चरण के तहत चार जिलों की 30 विधानसभा सीटों पर एक अप्रैल, तीसरे चरण के तहत 31 विधानसभा सीटों पर 06 अप्रैल, चौथे चरण के तहत पांच जिलों की 44 सीटों पर 10 अप्रैल, पांचवें चरण के तहत छह जिलों की 45 सीटों पर 17 अप्रैल, छठे चरण के तहत चार जिलों की 43 सीटों पर 22 अप्रैल, सातवें चरण के तहत पांच जिलों की 36 सीटों पर 26 अप्रैल और आठवें चरण के तहत चार जिलों की 35 सीटों पर 29 अप्रैल को वोटिंग होगी।