रामदास आठवले करेंगे Donald Trump से बात! बोले- मेरी पार्टी 'रिपबल्किन' की छवि की धूमिल

|

Published: 09 Jan 2021, 12:28 PM IST

  • अमरीकी संसद में हुई हिंसा का दुनियाभर में असर
  • केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले का बड़ा बयान
  • ट्रंप से मिलने की करूंगा कोशिश, उन्होंने रिपब्लकिन का छवि की धूमिल

नई दिल्ली। अमरीका के संसद ( American Parliament ) भवन में हुई हिंसा का असर पूरी दुनिया में देखने को मिल रहा है। भारत में इसका असर दिखाई दे रहा है। हालांकि इस बीच केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ( Ramdas Athwale )का बड़ा बयान सामने आया है। अमरीकी संसद में हुई हिंसा पर रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

रामदास अठावले ने डोनाल्ड ट्रंप की आलोचना की है। रामदास अठावले ने कहा है, 'मैं डोनाल्ड ट्रंप से बात करने की कोशिश करूंगा। उनके कारण हमारी रिपब्लिकन पार्टी की छवि धूमिल हो रही है, सिर्फ धूमिल ही नहीं बल्कि लोकतंत्र का अपमान भी हुआ है।'

अमरीकन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बढ़ी मुश्किल, पद से हटाने की तेज हुई मांग

अमरीका में हुई हिंसा के बाद दुनियाभर के नेताओं ने इसकी आलोचना की है। पीएम नरेंद्र मोदी ने भी इस घटना की निंदा की थी। हालांकि इस बीच केंद्रीय मंत्री का बड़ा बयान सामने आया।

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के प्रमुख रामदास अठावले ने कहा है कि यूएस कैपिटल में जो घटना हुई, वह निंदनीय है। यह न केवल रिपब्लिकन पार्टी का अपमान है, बल्कि अमरीका और लोकतंत्र का भी अपमान है। इसलिए हम अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। मैं ट्रंप से फोन पर बात करने की कोशिश करूंगा।

ट्रंप खो चुके ये अधिकारी
यही नहीं केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप सत्ता के लिए जिस तरह से प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं और जो कदम उठा रहे हैं वो लोकतंत्र को खतरे में डाल रहा है। ये आने वाले समय के लिए नकारात्मक संकेत दे रहा है।
आठवले ने कहा कि ट्रंप ने रिपब्लिकन कहलाने का अधिकार खो दिया है।

जनादेश का अपमान
आठवले बोले- ट्रंप को हार माननी चाहिए थी और अगला चुनाव जीतने के लिए प्रयास करने चाहिए, लेकिन ऐसा करने के बजाय, उन्होंने लोगों के जनादेश का अपमान किया और लोकतंत्र का अपमान किया है।

आपको बता दें कि कैपिटल बिल्डिंग में हुई हिंसा में पांच लोगों की मौत हो गई और 60 को गिरफ्तार कर लिया गया।

दुनिया के इस दिग्गज कारोबारी के एक ट्वीट ने बढ़ाई वॉट्सऐप की मुश्किल, दुनियाभर में शुरू हुआ विरोध

डोनाल्ड ट्रंप के चुनावी धोखाधड़ी के झूठे दावों के समर्थन में कैपिटल बिल्डिंग के बाहर तकरीबन 10 हजार से ज्याजा लोग एकत्र हुए और उन्होंने जमकर हंगामा किया था।