बिहार में गर्माए सियासी पारे के बीच Lalu Yadav ने इस अंदाज में दी नव वर्ष की बधाई, जानिए क्या कहा?

|

Published: 01 Jan 2021, 12:53 PM IST

  • RJD Chief Lalu Yadav ने दी नव वर्ष की शुभकामनाएं
  • बिहार में हाई सियासी पारे के बीच लालू का संदेश
  • नए साल में भी जारी रखेंगे नीतीश सरकार पर हमला

नई दिल्ली। बिहार ( Bihar ) में इन दिनों सियासी पारा हाई है। वजह है कि राष्ट्रीय जनता दल ( RJD ) के नेताओं का दावा, कि उनके संपर्क में कई जेडीयू विधायक हैं जो जल्द पार्टी को लेकर आरजेडी में शामिल हो सकते हैं। वहीं जेडीयू आरजेडी के इन आरोपों को महज भ्रामकता करार दे रही है। इसी सियासी गहमा गहमी के बीच राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ( Lalu Prasad Yadav ) ने बिहास समेत देशवासियों को नए वर्ष की शुभकामनाएं दी हैं।

लालू की शुभकामनाओं में सीधे तौर पर तो नहीं लेकिन अप्रत्यक्ष रूप से बड़ा संदेश भी छिपा है। ये संदेश है नीतीश सरकार के लिए।

भारत के खिलाफ बड़ी साजिश रच रहा चीन, अमरीकी रक्षा विश्लेषक की रिपोर्ट में हुआ बड़ा खुलासा, जानिए कैसे रख रहा नजर

बिहार की राजनीति में इन दिनों बदलाव के कयास लगाए जा रहे हैं। इसकी वजह है आरजेडी की कूटनीतिक चाल, जो अरुणाचल प्रदेश के घटनाक्रम के बाद सामने आई है। आरजेडी ने अरुणाचल की घटना का सियासी फायदा उठाते हुए जेडीयू के विधायकों को अपने पक्ष में लाने की कवायद तेज कर दी है।

इसी सियासी घटनाक्रम के बीच लालू प्रसाद यादव पर हर किसी की नजर बनी हुई है, लिहाजा उन्होंने नए वर्ष के आगाज की शुभकामनाओं में बड़ा संदेश दे डाला।

लालू यादव ने ट्वीट के जरिए कहा- 'नववर्ष 2021 की हार्दिक शुभकामनाएं. नए साल में गरीबी, बेबसी, बेरोजगारी, बेकारी का नाश हो. सामाजिक-आर्थिक असमानता व ऊंच-नीच का भेद मिटे. प्रेम सौहार्द बढे़, सांप्रदायिक सद्भाव स्थापित हो, इन्हीं मंगलकामनाओं के साथ आप सभी के स्वस्थ और खुशहाल जीवन की कामना करता हूं।'

अपने इस ट्वीट के जरिए अप्रत्यक्ष रूप से लालू ने साफ कर दिया कि वे नए साल में भी नीतीश सरकार पर हमला जारी रखने वाले हैं।

साल 2021 में सौर मंडल में दिखेंगे कई अद्भुत नजारे, हो जाइए तैयार और देखें किन-किन महीनों में मिलेगा ये मौका

बिहार की सत्ता (Bihar Politics) में परिवर्तन के लिए अपने राजनीतिक कौशल का इस्तेमाल कर रहे हैं। कुछ दिन पहले ही बीजेपी के विधायक को खरीदने को लेकर लालू यादव का कथित ऑडियो भी वायरल हुआ था। इसको लेकर बीजेपी विधायक ने दावा भी किया था कि उन्होंने लालू यादव की ओर से फोन आया, हालांकि उन्होंने लालू का ऑफर स्वीकार नहीं किया।