West Bengal: ब्रिगेड ग्राउंड में गरजे पीएम, कहा-ममता सिर्फ एक ही भतीजे की बुआ तक सीमित क्यों?

|

Published: 07 Mar 2021, 04:15 PM IST

Highlights

  • पीएम ने कहा, ममता का रिमोट कंट्रोल किसी और के हाथ में है।
  • पीएम ने टीएमसी सरकार पर कमीशनखोरी का आरोप लगाया।

नई दिल्ली। कोलकाता के ब्रिगेड ग्राउंड में पीएम नरेंद्र मोदी रविवार को भाजपा की रैली को संबोधित करते हुए (PM Narendra Modi Kolkata Rally) पश्चिम बंगाल की सीएम और तृणमूल कांग्रेस की मुखिया ममता बनर्जी (Mamata Banerjee)पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि वे आज से नहीं बल्कि बरसों से दीदी जानते हैं। मगर आज की दीदी पुरानी वाली नहीं हैं। उनका खुद पर भी बस नहीं है। उनका रिमोट कंट्रोल किसी और के हाथ में है।

ब्रिगेड मैदान से पीएम मोदी का शंखनाद, ममता बनर्जी ने लोगों के भरोसे का किया अपमान

पीएम ने अभिषेक बनर्जी के बहाने ममता पर कटाक्ष किया है। उन्होंने कहा कि बंगाल ने आपको दीदी के रूप में चुना था, लेकिन आपने खुद को एक ही भतीजे की बुआ तक सीमित क्यों कर लिया।

आप अपने भतीजे के लालच को पूरा करने में क्यों लग गई। आप भी भाई-भतीजावाद के उन कांग्रेसी संस्कारों को छोड़ पाईं हैं, जिनके खिलाफ आपने कभी बगावत की थी।

पीएम मोदी ने ममता बनर्जी और उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी की आलोचना करते हुए कहा कि 'आज पश्चिम बंगाल के नौजवान, यहां के बेटे-बेटियां आपसे एक ही सवाल पूछ रहे हैं। उन्होंने आपको दीदी की भूमिका में चुना था, लेकिन आपने खुद को एक ही भतीजे की बुआ तक सीमित क्यों कर दिया? आपने एक ही भतीजे की बुआ होने के मोह को क्यों चुना?

बंगाल के लाखों भतीजे-भतीजियों की आशाओं के बजाय आप अपने भतीजे का लालच को पूरा करने में क्यों लग गईं। आप भी भाई-भतीजावाद के उन कांग्रेसी संस्कारों को छोड़ नहीं पाईं, जिनके खिलाफ आपने बगावत की थी।'

पीएम ने टीएमसी सरकार पर कमीशनखोरी का आरोप लगाया। उन्होंने कहा 'माटी की बात करने वालों ने बंगाल का कण-कण, तिनका-तिनका, बिचौलियों, कालाबाजारी करने वालों और सिंडिकेट के हवाले कर दिया।

आज बंगाल के लोग काफी परेशान है। वो अपनी आंखों के सामने अपनों का खून बहता देख रहे हैं। अपने लोगों को आंखों के सामने लुटता देख रहे हैं।' इससे पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने भाजपा की जीत का दावा कर पश्चिम बंगाल के विकास का संकेत दिया। उन्होंने कहा कि पोर्ट से लेकर एक्सपोर्ट तक,टी से टूरिजम तक, माछ से लेकर भात तक। बंगाल की मिट्टी से सबकुछ है।