चार घंटे में सिर्फ 20 फीसदी काउंटिंग, नतीजों के लिए देर शाम तक करना पड़ सकता है इंतजार

|

Published: 10 Nov 2020, 01:31 PM IST

  • एक लाख से ज्यादा बोलिंग बूथ हो जाने से बढ़ गए हैं काउंटिंग के राडंड, लगेगा अभी वक्त
  • अभी तक सिर्फ करीब 80 लाख वोटों की हुई काउंटिंग, अभी 3 करोड़ से ज्यादा वोटों की काउंटिंग बाकी

नई दिल्ली। कोरोनाव वायरस और बिहार में पोलिंग स्टेशन की संख्या में इजाफा होने के कारण देश को बिहार विधानसभा चुनाव के पूरे नतीजे देर शाम तक ही मिल पाएंगे। इस बातम की जानकारी मुख्य चुनाव अधिकारी एचआर श्रीनिवास की ओर से एक न्यूज चैनल दी गई है। उनके अनुसार अभी तक सिर्फ 20 फीसदी ही काउंटिंग हो सकती है। वैसे काउंटिंग प्रक्रिया ने रफ्तार पकड़ ली है। फिर भी नतीजों के थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर एचआर श्रीनिवास की ओर से किस तरह की जानकारी दी है।

कितने वोटों की हुई काउंटिंग
एचआर श्रीनिवास के अनुसार इस बार बिहार की 4 करोड़ से ज्यादा जनता ने मतदान किया है। जिसमें से चार घंटों में करीब 80 लाख की गिनती हो चुकी है। अभी 3 करोड़ से ज्यादा वोटों की काउंटिंग होनी बाकी है। उनके अनुसार 8 बजे बैलेट की काउंटिंग हुई। उसके बाद 8 बजकर 30 मिनट पर ईवीएम की शुुआत हुई है। काउंटिंग ने रफ्तार पकड़ी है फिर भी देर शाम तक इंतजार करना होगा।

आखिर क्यों होगी देरी?
देरी का अहम कारण कोरोना वायरस की वजह से इस बार पोलिंग बूथों की संख्या में इजाफा किया गया था। इस बार यह संख्या एक लाख से ज्यादा देखने को मिल रही है। एचआर श्रनिवास के अनुसार 2015 के चुनावों में बूथों की संख्या 76 हजार के आसपास भी इस बार 37 हजार का इजाफा किया गया। ऐसे में ईवीएम की संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिली है। जिसकी बदौलत वक्त लग सकता है।

बदल सकते हैं रुझान
मौजूदा समय में एनडीए को रुझानों में बहुमत मिल गया है। वो 127 सीटों पर आगे है। वहीं दूसरी ओर महागठबंधन 105 और अन्य 11 पर आगे चल रही है। अभी सभी रुझान दो घंटे की वोटिंग के हैं। ऐसे में अभी कहना मुश्किल होगा कि यह चुनाव किसके पक्ष में जाएगा। क्योंकि सुबह के पहले एक घंटे के रुझानों में महागठबंधन ने आंकड़ा 130 का पार कर लिया था। ऐसे में जानकार इस मामले में कुछ बोलने से इनकार कर रहे हैं । अभी वो 3 से 5 बजे के बीच के आंकड़े पर बात करेंगे।