महबूबा मुफ्ती ने केंद्र से की इस बात की वकालत, कहा - बातचीत से हो समस्या का समाधान

|

Updated: 15 Nov 2020, 10:46 AM IST

 

  • एलओसी पर हुई मौतों से मैं दुखी हूं।
  • पीएम ने कल पाकिस्तान को दी थी सख्त चेतावनी।

नई दिल्ली। भारतीय सैनिकों की गोलीबारी में पाकिस्तानी सैनिकों के मारे जाने के बाद से जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती बौखलाई हुई हैं। उन्होंने एक बार फिर अपने पाकपरस्त बयान में कहा है कि केंद्र सरकार कश्मीर विवाद का समाधान बातचीत के जरिए निकाले। भारत सरकार इस मामले में बातचीत शुरू करने की पहल करे। उन्होंने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व राजनीतिक मजबूरियों से बाहर निकल इस मुद्दे पर बात करे। एलओसी पर दोनों तरफ से बड़े पैमाने पर गोलीबारी की वजह से हुई मौतों से मैं दुखी हूं। उनकी इस बात से साफ है कि महबूबा मुफ्ती केंद्र सरकार और भारतीय सेना के रुख से परेशान हैं।

हिंडौन सिटी में PM मोदी ने कह दीं ऐसी-ऐसी बातें, विरोधियों के छूट जाएंगे पसीने, यहां जानें भाषण की एक-एक बातें

पाक की भाषा में देंगे जवाब

बता दें कि दीपावली के दिन पीएम नरेंद्र मोदी ने जैसलमेर के लोंगोवाल पोस्ट पर भारतीय सेना के जवानों के साथ दिवाली मनाई थी। शनिवार को उन्होंने सेना को संबोधित करते हुए कहा था कि अगर पाकिस्तान शांति की बात समझने को तैयार नहीं है तो हम उसे माकूल जवाब देने के लिए तैयार हैं, जिसे वो समझना चाहता है। पीएम ने कहा कि अब पाकिस्तान पहले की तरह बातचीत और आतंक दोनों की बात एक साथ नहीं कर सकता।