West Bengal : महंगाई के विरोध में इलेक्ट्रिक स्कूटी से सचिवालय पहुंची ममता बनर्जी

|

Updated: 25 Feb 2021, 12:03 PM IST

  • पेट्रोल-डीजल की कीमतों का ममता बनर्जी ने विरोध किया।
  • बीजेपी को सियासी मात देने के लिए इलेक्ट्रिक स्कूटी से पहुंची सचिवालय।

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी और टीएमसी के बीच सियासी घमासान जारी है। कुछ देर पहले जहां बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने लोक्खो सोनार बांग्ला अभियान की शुरुआत की, वहीं बीजेपी इस अभियान को बेदम करने के लिए सीएम ममता बनर्जी पेट्रोल और डीजल की आसमान छूती कीमतों के विरोध में इलेक्ट्रिक स्कूटी से सचिवालय पहुंची।

कोई चूक नहीं करना चाहती ममता

ममता बनर्जी के इस कदम से साफ है कि वो बीजेपी को हर मोर्चे पर टक्कर देना चाह रही हैं। साथ ही वो किसी भी स्तर पर भूल की गुंजाइश नहीं छोड़ना चाहती हैं। इससे एक दिन पहले बीजेपी के टॉप लीडरों द्वारा अपने खिलाफ जारी हमले का काउंटर करने के लिए उन्होंने पीएम मोदी को दंगेबाज करार दिया था।

बंगाल से गुंडागर्दी का होगा खात्मा

वहीं कुछ देर पहले सोनार बांग्ला अभियान की शुरुआत करते हुए जेपी नड्डा ने भी ममता सरकार पर जोरदार हमला बोला था। उन्होंने प्रदेश सरकार से पूछा है कि बंगाल में विकास का सूखा क्यों पड़ा? हमारी सरकार बनी तो हम बंगाल में अवैध कोयला खनन को रोकेंगे, उद्योगों का नए सिरे से विकास करेंगे, पश्चिम बंगाल में सिंडिकेट संस्कृति को खत्म करेंगे। बीजेपी कट मनी को रोकने के साथ ममता बनर्जी के अन्याय का भी खात्मा करने का काम करेगी।