मरवाही उपचुनाव: जोगी कांग्रेस का वोट कांग्रेस को गया, समर्थन के बाद भी BJP को नकारा

|

Published: 11 Nov 2020, 03:06 PM IST

- जोगी का वोट बटोरने के लिए कांग्रेस-भाजपा ने लगा दी थी एड़ी चोटी का जोर
- जोगी कांग्रेस का भाजपा को सपोर्ट करने से बिगड़ गया था कांग्रेस का समीकरण

बिलासपुर. मरवाही विधानसभा उपचुनाव में राजनीति पंडितों द्वारा कयास लगाए जा रहे थे जिसको जोगी का वोट मिलेगा उसकी जीत निश्चित है। जोगी का वोट बटोरने के लिए कांग्रेस व भाजपा ने एड़ी चोटी की जोर लगा दी। मतदान के चार दिन पहले जोगी कांग्रेस का भाजपा के सपोर्ट करने से कांग्रेस का समीकरण बिगड़ गया था। लेकिन कांग्रेस ने दो दिन में सब कुछ ठीक कर लिया। इस जोगी के वोट को कांग्रेस अपने पक्ष में डलवाने पर सफल हुए।

18 साल का जोगी वर्चस्व खत्म, कांग्रेस के हाथ में मरवाही, पांच माह से कांग्रेसी कर रहे थे फिल्डिंग

जोगी मतों का रिकार्ड तोड़ा जीत का नहीं
कांग्रेस ने जोगी को विधानसभा 2018 में मिले 74041 मतों के रिकार्ड को तोड़ दिया है। डॉ. ध्रुव को 83 हजार 561 मत मिले हैं । वहीं अजीत जोगी को विधानसभा में 46 हजार 462 वोट से जीत हासिल किए थे उस रिकार्ड को नहीं तोड़ पाए। वहीं 2018 के चुनाव में कांग्रेस की जमानत जब्त हो चुकी थी।

मरवाही उपचुनाव: कांग्रेस-भाजपा छोड़ बाकी सभी उम्मीदवारों की जमानत जब्त, यहां देखिए डिटेल

भाजपा के दिग्गज नहीं पहुंचे
मरवाही विधानसभा चुनाव का परिणाम जानने के लिए कांग्रेस नेताओं का सुबह से हुजूम लगा था लेकिन भाजपा के दिग्गज नेता नजर नहीं आए। प्रभारी मंत्री अमर अग्रवाल, धरमलाल कौशिक सांसद अरुण साव सहित अन्य नेता घर से फोन से नतीजों की जानकारी लेते रहे।