हेमंत सोरेन ने पीएम मोदी पर कसा तंज, बोले- प्रधानमंत्री ने फोन लगाकर सिर्फ अपने 'मन की बात' की

|

Published: 07 May 2021, 12:30 PM IST

झारखंड के CM Hemant Soren ने PM Modi पर कसा मन की बात करने का तंज, ये बताई वजह

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( Coronavirus in India ) के कहर से पूरा देश जंग लड़ रहा है। कई राज्यों में हालात काफी बिगड़ रहे हैं। यही वजह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) भी कोरोना प्रभावित राज्यों से लगातार संपर्क में हैं। इस बीच उन्होंने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ( Hemant Soren ) से भी बातचीत की।

हालांकि झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने इस बातचीत को लेकर पीएम मोदी पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने फोन तो लगाया लेकिन सिर्फ अपने मन की ही बात की।

यह भी पढ़ेँः Tamil Nadu: M K Stalin ने पहली बार ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, कैबिनेट में 'नेहरू' और 'गांधी' भी शामिल

कोरोना के बढ़ते खतरे के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार राज्यवार मुख्यमंत्रियों से बातचीत कर वहां की स्थिति का जायजा ले रहे हैं। लेकिन झारखंड से बातचीत करना सुर्खियों का कारण बन गया।

दरअसल मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि पीएम मोदी ने फोन पर सिर्फ मन की बात की। सोरेन ने कहा कि बेहतर होता कि प्रधानमंत्री 'काम की बात करते और काम की बात' सुनते।

सोरेन ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने इस ट्वीट में प्रधानमंत्री पर एकतरफा संवाद का आरोप लगाते हुए तंज भी कस दिया। सोरेन ने कहा कि बेहतर होता अगर पीएम मोदी काम की बात करते और काम की बात सुनते।

यह भी पढ़ेँः सावधान! खाने में ज्यादा सोडियम का सेवन बन सकता है जानलेवा, WHO ने दी ये सलाह

हेमंत सोरेन के पीएम मोदी पर तंज कसने के बाद सियासत गर्मा गई है। इस तंज पर पलटवार करते हुए असम के दिग्गज नेता हिमंत बिस्वा सरमा ने जवाब दिया है, आपका यह ट्वीट न सिर्फ न्यूनतम मर्यादा के खिलाफ है बल्कि उस राज्य की जनता की पीड़ा का भी मजाक उड़ाना है, जिनका हाल जानने के लिए माननीय प्रधानमंत्री जी ने फोन किया था। बहुत ओछी हरकत कर दी आपने. मुख्यमंत्री पद की गरिमा भी गिरा दी।'

इस वजह से नाराज थे हेमंत सोरेन
दरअसल बताया जा रहा है कि सीएम हेमंत सोरेन के नाराज होने के पीछे जो वजह थी वो यह थी कि वे चाहते थे कि पीएम मोदी उनसे राज्य की स्थिति को लेकर बातचीत करें।
वे पीएम मोदी को राज्य से संबंधित मुद्दे के बारे अवगत कराना चाहते थे, लेकिन प्रधानमंत्री ने सिर्फ कोरोना को लेकर बातचीत की और उसी की स्थिति के बारे में पूछा।

Related Stories